फॉलो

डार्क अंडरआर्म्स से शर्मिंदा हैं? टेंशन न लें क्‍योंकि यहां हैं इससे छुटकारा पाने की 4 होम रेमेडीज

Published on:13 August 2020, 13:00pm IST
डार्क आर्मपिट्स हमारे लिए शर्मिंदगी का विषय बन सकते हैं। लेकिन उन्हें छुपाने के बजाय उनसे छुटकारा पाने की ज़रूरत है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 80 Likes
काले अंडर आर्म्स से छुटकारा पाना है तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे। चित्र- शटर स्टॉक।

क्या आप अपने डार्क अंडरआर्म्स के कारण स्लीवलेस कपड़े पहनने से बचती हैं? ज्यादातर महिलाएं काले अंडरआर्म्ड से परेशान हैं।

क्यों गहरा होता हैं हमारे अंडर आर्म का रंग?

अंडरआर्म की त्वचा भी बाकी शरीर की तरह ही है, जिसे सही देखभाल की ज़रूरत होती है। यह देखभाल ना होना ही काले अंडरआर्म्स का प्रमुख कारण है।

अंडरआर्म्स पर डेड सेल्स इकट्ठा होते रहते हैं और काले स्पॉट का रूप ले लेते हैं।
हालांकि अल्कोहल वाले डियोड्रेंट, हेयर रिमूवल क्रीम, शेविंग और स्मोकिंग से भी अंडरआर्म्स काले हो जाते हैं।

अगर काले अंडर आर्म्स की वजह से आप अपनी पसंद के कपड़े नहीं पहन पाती हैं, तो ज़रूरत है इन नुस्खों को अपनाने की। चित्र: शटर स्टॉक।

कैसे करें अंडरआर्म्स की सही देखभाल

अंडरआर्म की स्किन नाज़ुक होती है, साथ ही उसमें स्वेट ग्लैंड ज्यादा होते हैं। इसलिए इसकी केयर में आपको कुछ खास चीजों का ध्‍यान रखना चाहिए।

1. हर दिन नहाते वक्त अंडरआर्म्स को साबुन से साफ करने के बाद क्रीम या मॉइस्चराइजर लगाएं। बाकी शरीर की त्वचा की तरह यहां भी नमी की ज़रूरत होती है।

2. हफ्ते में एक से दो बार अंडरआर्म्स को स्क्रब करके डेड स्किन निकालें। स्क्रबिंग के बाद एलोवेरा जेल लगाएं।

3. शेविंग या हेयर रिमूवल क्रीम के बजाय वैक्स का प्रयोग करें।

4. अल्कोहल युक्त डियोड्रेंट का इस्तेमाल न करें।

5. बहुत टाइट कपड़े ना पहनें, क्योंकि रगड़ लगने से भी अंडरआर्म की त्वचा काली पड़ सकती है।

काले अंडर आर्म्स को साफ और गोरा करने के लिए इन घरेलू नुस्खों का लें सहारा-

1. आलू

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ मॉलिक्यूलर साइंस की रिसर्च के अनुसार नेचुरल स्किन व्हाइटनर यानी प्राकृतिक रूप से त्वचा को साफ करने वाले प्रोडक्ट्स में आलू सबसे कारगर है। आलू में माइल्ड ब्लीचिंग प्रोपर्टी होती हैं जो पिगमेंटेशन दूर करती है और त्वचा की रंगत निखरती है।

अंडर आर्म्स का कालापन दूर करने के उपाय। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसके लिए एक आलू का रस लें और कॉटन बॉल की मदद से अंडरआर्म्स पर लगाएं। 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें। इस उपाय को हर दूसरे दिन करने से आपको हफ्ते भर में फर्क दिखेगा।

2. कॉफ़ी स्क्रब

अंडरआर्म्स को स्क्रब करने के लिए घर पर ही कॉफी का यह स्क्रब बनाएं। एक चम्मच कॉफी में आधा नींबू का रस और आधा चम्मच शहद डालें। इस मिश्रण से अंडरआर्म्स में 5 से 8 मिनट तक स्क्रब करें और फिर धो लें। मॉइस्चराइजर लगाना न भूलें।

कॉफ़ी में टैनिन्स होते हैं जो कालापन खत्म करके त्वचा को इवन टोन देता है। नीबू में भी माइल्ड ब्लीच प्रोपर्टी होती हैं जो रंगत सुधारने में मदद करता है। शहद एक बेहतरीन मॉइस्चराइजर का काम करता है जो त्वचा को हाइड्रेट रखता है।

3. संतरे के छिलके का स्क्रब

एक चम्मच दूध में एक चम्मच गुलाब जल मिलाएं और उसमें इतना ऑरेंज पील पाउडर डालें की पेस्ट तैयार हो जाये। बाजार में मिलने वाले और घर पर बने पाउडर के फ़र्क होता है। इसलिए पाउडर कितना डालना होगा यह निर्भर करता है। पेस्ट बनाकर इससे हल्के हाथों से अंडरआर्म्स में स्क्रब करिए। 15 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ें और फिर ठंडे पानी से धो लें।

संतरे के छिलके में स्किन लाइटनिंग प्रोपर्टी होती हैं जो अंडरआर्म्स का कालापन कम करता है। साथ ही यह खुजली और इर्रिटेशन से भी आराम देता है। गुलाबजल त्वचा को नमी देता है। यह स्क्रब हफ्ते में दो से तीन बार इस्तेमाल करें।

4. बेकिंग सोडा पैक

एक चम्मच बेकिंग सोडा में एक छोटा चम्मच नारियल तेल और आधे नींबू का रस मिलाएं। नीबू मिलते ही बेकिंग सोडा में हल्का सा झाग बनेगा। इस मिश्रण को अच्छे से फेंटें और अंडरआर्म पर लगा लें। 5 मिनट तक रखने के बाद हल्के हाथ से मसाज करके इसे धो लें। बेकिंग सोडा का ph स्किन के ph से ज्यादा होता है।

काले अंडर आर्म्स के लिए बेकिंग सोडाचित्र ट्राय करें. चित्र : शटरस्टॉक

यह स्किन को व्हाइटन करने के साथ साथ उस को ड्राई कर सकता है इसलिए नारियल तेल का इस्तेमाल किया जाता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ हेल्थ, अमेरिका के एक लेख के अनुसार बेकिंग सोडा को डियोड्रेंट की जगह भी इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन डर्मेटोलॉजिस्ट इसका सुझाव नहीं देते।

इन घरेलू नुस्खों को आप आसानी से घर पर ही बना सकती हैं। लेकिन अंडर आर्म की त्वचा की सही देख रेख भी ज़रूरी है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।

संबंधि‍त सामग्री