वैलनेस
स्टोर

क्‍या आपको भी पसंद हैं चेहरे पर बर्फ रगड़ना, तो आइए जानते हैं इसे और बेहतर बनाने के तरीके

Published on:14 March 2021, 16:30pm IST
हम सभी ने स्किन आइसिंग के बारे में सुना है और जानते हैं कि यह त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कितना लोकप्रिय है। लेकिन क्या यह वास्तव में इतना फायदेमंद है? आइये जानते हैं
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 80 Likes
जानिए बर्फ आपकी त्वचा के लिए क्या कर सकती है। चित्र-शटरस्टॉक।

हमारी त्वचा, बालों और स्वास्थ्य के लिए घरेलू नुस्खे से बेहतर कुछ नहीं है। यदि कोई एक उपाय है जो त्वचा के लिए हमेशा फायदेमंद रहा है वह है स्किन आइसिंग। आपके चेहरे पर बर्फ का उपयोग करना त्वचा की कई समस्याओं का समाधान है। सबसे अच्छी बात यह है कि यह कई त्वचा विकारों से निपट सकती है, खासकर गर्मियों के मौसम में।

मूल रूप से, स्किन आइसिंग एक क्रायोथेरेपी उपचार है जिसका उपयोग आमतौर पर स्पा में किया जाता है, लेकिन हम पैसे और समय क्यों बर्बाद करें, जब आप घर पर सभी लाभों का आनंद ले सकती हैं? यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें आपकी त्वचा को ठंडे तापमान के संपर्क में लाया जाता है, जो त्वचा की कई समस्याओं को हल करती है और आपको तुरंत तरोताजा महसूस करवाती है।

आइये जानते हैं कि आपको अपने चेहरे पर बर्फ का उपयोग कैसे करना चाहिए:

1: गंदगी और तेल से छुटकारा पाने के लिए पहले अपने चेहरे को अच्छी तरह से साफ करें।

2: एक मुलायम कपड़े में बर्फ के तीन से चार टुकड़े लपेटें। जब बर्फ के टुकड़े पिघलना शुरू हो जाते हैं, तो आप इसका उपयोग अपने चेहरे की मालिश करने के लिए कर सकती हैं।

3: अपने चेहरे के विभिन्न हिस्सों पर बर्फ की मालिश करना शुरू करें। ध्यान रहे कि आप मसाज सर्कुलर मोशन में करें। अब, अपने चेहरे पर एक मॉइस्चराइजर का उपयोग करें।

याद रखें कि इसे 15 मिनट से ज्यादा न करें और अपने चेहरे के सभी हिस्सों को कवर करें। आप इसे सप्ताह में दो बार करें यदि आपकी त्वचा शुष्क है, क्योंकि हर दिन बर्फ रगड़ने से जलन हो सकती है।

स्किन आइसिंग को और फायदेमंद बनाने के लिए, आप अन्य प्राकृतिक अवयवों को जोड़ सकती हैं।

यह भी पढें: हर रोज 2 अंडे का सेवन आपकी त्‍वचा और बालों के लिए कर सकता है चमत्‍कार, जानिए कैसे

एलोवेरा आइसिंग

आपको एलोवेरा की पत्ती से जेल निकालने की जरूरत है, इसे पीस लें और इसे फ्रीज करने के लिए पानी के साथ मिलाएं। एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंट, एंजाइम और विटामिन होते हैं जो त्वचा की कई समस्याओं का इलाज कर सकते हैं।

अपनी त्वचा को पोषित करने के लिए एलोवेरा पर भरोसा करें। चित्र-शटरस्टॉक।

ग्रीन टी आइसिंग

ग्रीन टी के साथ आइस बनाएं और इसे एक आइस क्यूब ट्रे में डालें और इसे फ्रीज करें। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो आपकी त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं।

हल्दी आइसिंग

हल्दी को पानी में मिलाकर आइस क्यूब ट्रे में जमायें। हल्दी बर्फ के टुकड़े में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो मुंहासे, पिंपल्स और ब्रेकआउट से लड़ते हैं।

खीरा आइसिंग

खीरे को पीसकर उसमें नींबू का रस मिलाएं। अब, बर्फ के टुकड़ों को फ्रीज करें और अपने चेहरे की मालिश करें। खीरे विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होते हैं, जो सन डैमेज की समस्याओं को हल करेंगे।

कॉफी आइसिंग

इसकी बर्फ बनाने के लिए पानी के साथ कॉफी का उपयोग करें। कॉफी लालिमा और लाइनों को कम करने में मदद करेगी।

आइसिंग करते वक़्त इन बातों का ख़ास खयाल रखें:

  • अपनी आंखों के आसपास बर्फ रगड़ने से बचें या अप्लाई करते समय सावधान रहें। खासकर यदि आपके बर्फ के टुकड़े में अन्य सामग्री हो।
  • एक सही संतुलन बनाए रखना बेहद ज़रूरी है, इसलिए दिन में कई बार आइसिंग न करें।
  • सुनिश्चित करें कि स्किन आइसिंग से पहले आपका चेहरा साफ हो। मेकअप को हटाना जरूरी है। 
  • गोलाकार में या धीरे से बर्फ के क्यूब्स से मालिश करें। 
  • किसी विशेष क्षेत्र को बहुत अधिक रगड़ें नहीं।
  • आप इसे सुबह या शाम को कर सकती हैं।
  • दिन में 10-15 मिनट मालिश करने से बचें।
  • अपने चेहरे के प्रत्येक भाग पर ध्यान केंद्रित करें जैसे कि जबड़े, ठोड़ी, गाल, माथे, नाक, आदि।
  • आप उन क्षेत्रों की मालिश करने के लिए अधिक समय का उपयोग कर सकते हैं, जहां मुंहासे और दाने हैं।
  • यदि आपकी त्वचा इस प्रक्रिया से ख़राब हो जाती है, तो आपको ऐसा करना बंद कर देना चाहिए।
  • अगर आपको मुंहासों की समस्या है तो एक मुलायम कपड़े में लपेटकर बर्फ का उपयोग करें।
  • यदि आपकी त्वचा पहले से ही डैमेज है, तो अपने चेहरे पर बर्फ का उपयोग न करें। पहले इसे
  • ठीक होने दें ।
  • फ्रीजर से सीधे बर्फ के टुकड़े का उपयोग करने से बचें, उन्हें थोड़ा पिघला दें।
  • स्किन आइसिंग के बाद हमेशा मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें।

सारांश:

एकिन आइसिंग आपके चेहरे की चमक को बढ़ाएगी, लालिमा और चकत्ते को कम करेगी, रक्त परिसंचरण में सुधार होगा और सनबर्न की समस्या दूर होगी। यह तेल को भी कम करेगी और अन्य उत्पादों के अवशोषण में सुधार होगा। इसलिए, स्किन आइसिंग ट्राई करें क्योंकि यह आपकी स्किनकेयर रूटीन का एक सरल और केमिकल-फ्री समाधान है।

यह भी पढें: विशेषज्ञों के सुझाए ये 5 फूड्स दिला सकते हैं मुंहासों से नेचुरली छुटकारा, जानिए ये कैसे काम करते हैं 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।