क्या मेडी फेशियल रेगुलर सैलून फेशियल से बेहतर है? एक्सपर्ट से जानें इसका सही जवाब

आजकल की ज्यादातर महिलाएं अपनी स्किन को लेकर अवेयर रहती हैं। वहीं त्वचा को यंग और खूबसूरत बनाए रखने के लिए तरह-तरह की खोज भी करती रहती हैं। उन्हीं में से एक है मेडी फेशियल। तो एक्सपर्ट से जानें इनसे जुड़ी कुछ जरूरी बातें।
स्किन के लिए फायदेमंद है अंगूर। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published on: 16 July 2022, 17:30 pm IST
ऐप खोलें

पिछले कुछ सालों में सीटीएम (Cleanse-Tone-Moisturise) स्किन केयर में कई तरह के बदलाव आए हैं। कोविड-19 लॉकडाउन में कस्टमर्स ने घर पर ही कई तरह के अलग-अलग शासनों का प्रयोग किया और देखा कि उनमें से सबसे अच्छा विकल्प क्या है। 2022 के मध्य में स्किन केयर सेक्टर द्वारा न्यू-ऐज गेन कस्टमर्स से इफेक्टिव स्किन केयर को लेकर मेडिकल ग्रेड फेशियल और मेडी फेशियल (Medi facial) की सबसे ज्यादा डिमांड देखी गयी।

आखिर मेडी फेशियल है क्या?

मेडी फेशियल डर्मेटोलॉजिस्ट के देखरेख के अंदर स्किन फ्रेंडली और लोंग लास्टिंग प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करके किया जाने वाला एक प्रकार का फेशियल है। एक साधारण सैलून फेशियल की तुलना में मेडिकल ग्रेड फेशियल स्किन के लिए कहीं ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

इसमें शामिल सभी प्रतिक्रियाएं हर प्रकार की त्वचा के लिए सुरक्षित होती हैं। इसके साथ ही यह कुछ स्किन प्रॉब्लम्स और कंडीशन्स को भी ठीक करने में मदद कर सकती हैं।

यहां जाने क्या है मेडी फेशियल। चित्र: शटरस्टॉक

क्या हर महीने जरूरी है सैलून फेशियल लेना?

दिल्ली की डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ निवेदिता दादू ने हेल्थ शॉट्स से बातचीत के दौरान बताया कि ज्यादातर महिलाएं स्किन रिलैक्सेशन और त्वचा की खूबसूरती के लिए हर महीने सैलून फेशियल करवाती हैं। परंतु इस बारे में पूरी जानकारी होना भी बहुत जरूरी है।

यहां जानें रेगुलर सैलून फेशियल से किस प्रकार बेहतर है मेडी फेशियल

सैलून में कई प्रकार के फेशियल मौजूद होते हैं। परंतु क्या यह सच में आपकी स्किन के लिए फायदेमंद होते है? सैलून फेशियल तब तक फायदेमंद नहीं होते, जब तक यह स्किन के अंदरूनी सतह तक नही पहुंच पाते। वहीं मेडी फेशियल आपकी स्किन टाइप और स्किन कंसर्न जैसे कि डार्क स्पॉट्स, ओपन पोर्स, ब्लेमिशेस, फ्रेकल्स और अनइवन स्किन टोन के हिसाब से पर्सनलाइज्ड और कस्टमाइज होते हैं।

मेडी फेशियल में डेड पिगमेंटेड स्किन सेल्स को निकालने के लिए माइक्रो डर्माब्रेशन और माइल्ड फूड बेस्ड पील्स का प्रयोग किया जाता है। वहीं दूसरी ओर सैलून फेशियल में डैमेज स्किन सेल्स को हटाने में फिजिकल एक्सफोलिएटर या स्क्रब का उपयोग करते हैं।

मेडी फेशियल और रेगुलर सैलून फेशियल के बीच में अंतर समझने के लिए डॉक्टर निवेदिता सुझाव देते हुए कहती हैं कि “मेडी फेशियल और साधारण सैलून फेशियल दोनों को ही एक एक बार अनुभव जरूर करें। परिणाम खुद ब खुद आपके सामने होगा। हालांकि, मेडी फेशियल हमेशा किसी क्वालिफाइड और एक्सपीरियंस डर्मेटोलॉजिस्ट के देखभाल में ही करवाएं।”

दाग धब्बो से छुटकारा दिलाता है मेडी फेशियल। चित्र शटरस्टॉक।

यहां जानें मेडी फेशियल के कुछ महत्वपूर्ण फायदे

मेडी फेशियल हर तरह के स्किन टाइप और स्किन प्रॉब्लम्स जैसे कि ब्लैकहेड्स, ओपन पोर्स, एक्ने, स्कार्स, और रेडनेस में फायदेमंद हो सकता है। मेडी फेशियल लाइट बेस्ट थेरेपी है जो कि कॉलेजन प्रोडक्शन को ट्रिगर करने के साथ ही स्किन के सभी लेयर्स पर काम करती हैं। यह माइल्ड पील्स एक्सफोलिएशन, लाइट बेस्ट थेरेपी और सीरम इन्फ्यूजन का कॉन्बिनेशन है, जो स्किन को एक लांग लास्टिंग रिजल्ट देता है।

मेडी फेशियल फाइन लाइंस और रिंकल्स को कम करने में मदद करती हैं। इसके साथ ही स्किन को एक यूथफुल ग्लो और स्मूदनेस देती हैं जो आमतौर पर एक साधारण सैलून फेशियल नहीं दे पाती। मेडी फेशियल लेने के बाद आपकी स्किन काफी ज्यादा सॉफ्ट और ग्लोइंग हो जाती है। साथ ही यह स्किन हेल्थ को भी लंबे समय तक बनाए रखता है।

यह भी पढ़ें : क्या सेफ है ब्लैकहेड्स के लिए पोर स्ट्रिप्स का इस्तेमाल? एक्सपर्ट कहते हैं नहीं

लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
Next Story