जानिए क्या होता है, जब आप जरूरत से ज्यादा करती हैं विटामिन ई कैप्सूल का इस्तेमाल

Updated on: 4 May 2022, 16:35 pm IST

विटामिन ई कैप्स्यूल को एंटी एजिंग एजेंट माना जाता है, लेकिन इसके लगातार प्रयोग से कुछ परेशानियां भी हो सकती हैं। आइए जानते हैं इस पर क्या है एक्सपर्ट की राय?

vitamin e ke kayi nuksan bhi hain
जरुरत से ज्यादा विटामिन ई कैप्सूल लेने के कई नुकसान हैं। चित्र : शटरस्टॉक

इन दिनों सोशल मीडिया पर कई वीडियोज दिखाए जाते हैं, जो बताते हैं कि रोज रात में चेहरे पर किसी भी जेल या फेस क्रीम के साथ विटामिन ई के कैप्सूल मिलाकर लगाने से झुर्रियां एक दम गायब हो जाती हैं।

वास्तव में विटामिन ई हमारी स्किन तक सही मात्रा में ब्लड पहुंचाता है और कोलाजेन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है। इससे हमारी स्किन के अंदर डैमेज हुए टिश्यू हील हो जाते हैं और हमारी त्वचा चमकदार दिखती है। लेकिन लंबे समय तक इसके प्रयोग से कुछ दिक्कतें भी आ सकती हैं। आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ समस्याओं के बारे में जो विटामिन ई कैप्सूल के लगातार इस्तेमाल से हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें :- महत्वपूर्ण है आपकी उम्र का तीसरा दशक, रुखी त्वचा और झुर्रियों से बचने के लिए फॉलो करें ये 5 टिप्स

क्यों सभी को इतना पसंद है विटामिन ई कैप्सूल

असल में विटामिन ई में अल्फा-टोकोफेरोल होता है। यह पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट है, जो स्किन को धूल, मिट्टी, पॉल्यूशन के दुष्प्रभाव से सुरक्षा देता है। एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण ही यह झुर्रियों को कम करता है और चेहर पर चमक लाता है। इसलिए ज्यादातर सौंदर्य विशेषज्ञ अपने ब्यूटी रिजीम में विटामिन ई कैप्सूल शामिल करने की सलाह देते हैं।

आखिर क्या होता है इस कैप्सूल में

दिल्ली के त्वचा स्किन क्लिनिक की स्किन एक्सपर्ट व डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. मेघा मोदी बताती हैं कि विटामिन ई ऑयल को ही विटामिन ई कैप्सूल में ट्रांसफॉर्म कर दिया जाता है। फिर इस कैप्सूल को तोड़कर उसके लिक्विड को किसी फेस क्रीम के साथ मिलाकर चेहरे पर अप्लाई किया जाता है।
इसे ओरल या इंजेक्शन के रूप में भी लिया जाता है। विटामिन ई को किसी भी फॉर्म में लिया जाए, यह हर तरह से फायदेमंद होता है। लेकिन इसके ओवर यूज या ज्यादा इस्तेमाल से स्किन संबंधी कुछ दिक्कतें भी होती हैं।

यह भी पढ़ें :- Eid Skincare Tips : ईद पर चांद सा निखर आएगा चेहरा, जब फॉलो करेंगी ये स्किन केयर टिप्स

जानिए क्या होता है जब आप ज्यादा करती है विटामिन ई कैप्सूल का इस्तेमाल

1आपको एलर्जी हो सकती है

कई महिलाओं की स्किन को विटामिन ई कैप्सूल सूट नहीं करते हैं। इस कैप्सूल को अप्लाई करते ही उनकी स्किन पर दाने निकल आते हैं। खुजली होने लगती है और रेड रैशेज हो जाते हैं। ये सभी एलर्जी के लक्षण हैं।
इस तरह की समस्या आने पर कैप्सूल अप्लाई करना तुरंत रोक देना चाहिए। ध्यान दें कि जिन्हें यह कैप्सूल सूट करता है, वे इसे अपनी रेग्युलर क्रीम के साथ मिलाकर लगातार 2-3 दिनों तक लगाएं तभी इसके अच्छे परिणाम आते हैं। इसे लगाने के बाद मसाज करना न भूलें।

2 हो सकती है पिंपल्स की समस्या

विटामिन ई कैप्सूल में मौजूद ऑयल विपरीत तरीके से भी काम कर सकते हैं। जिन लड़कियों या महिलाओं की स्किन ऑयली है, वे विटामिन ई कैप्सूल के प्रयोग से बचें। ऑयली स्किन के ऑयल ग्लैंड्स एक्टिव होते हैं। विटामिन ई में मौजूद ऑयल स्किन में मौजूद ऑयल की मात्रा को बढ़ा देते हैं। इससे स्किन पोर्स बंद हो जाते हैं और चेहरे पर पिंपल्स दिखाई देने लगते हैं।

3 हो सकता है स्किन ब्रेकआउट

विटामिन ई ऑयल सॉल्यूबल होता है। ऑयल फॉर्म में यह स्किन पोर्स के अंदर तक चला जाता है। इससे ऑयली या एक्ने प्रोन स्किन में ब्रेकआउट की समस्या हो जाती है। यदि आपकी स्किन को एक्ने की समस्या हो जाती है, तो ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें, जिसमें विटामिन ई विटामिन सी के साथ मिला हो।

4 घट सकता है ब्लड प्लेटलेट काउंट

रिसर्च में यह बात सामने आई है कि विटामिन ई कैप्सूल को ओरली लेने पर ब्लड में प्लेटलेट्स काउंट घट जाता है। इससे ब्लड पतला भी हो जा सकता है। इसलिए बिना डॉक्टर से परामर्श किए इसे ओरली न लें।

यह भी पढ़ें :- टैनिंग हो या पिग्मेंटेशन आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं शहद के ये 4 फेस मास्क

स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें