मानसून में भारी पड़ सकती है अंडरआर्म शेविंग, जानिए इसके जोखिम और सेफ्टी टिप्स

बारिश के मौसम में अंडरआर्म शेविंग के कई साइड इफेक्ट्स ही सकते हैं। अंडरआर्म्स को शेव (underarms shaving side effects) करने के कुछ समय बाद से ही आपको इरिटेशन और इचिंग महसूस होना शुरू हो जाता है।
Jaane barsat mein underarms ko Save karne ke nuksan.
जानें बरसात में अंडर आर्म्स को सेव करने के नुकसान। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 4 Jul 2024, 08:00 am IST
  • 122

बारिश के मौसम में वातावरण में नमी बढ़ने से त्वचा चिपचिपी हो जाती है, जिसकी वजह से बेहद इरिटेशन होता है। वहीं बॉडी हेयर और पैक्ड होने के कारण अंडरआर्म्स अधिक इरिटेटेड रहते हैं। स्लीवलैस पहनने और कम्फर्टेबल रहने के लिए ज्यादातर महिलाएं अंडरआर्म हेयर को रेजर से शेव कर लेती हैं। पर अगले ही दिन से यह स्थिति और भी ज्यादा अनकम्फर्टेबल हो सकती है। बारिश के मौसम में अंडरआर्म शेविंग के कई साइड इफेक्ट्स ही सकते हैं। अंडरआर्म्स को शेव (underarms shaving side effects) करने के कुछ समय बाद से ही आपको इरिटेशन और इचिंग महसूस होना शुरू हो जाता है। तो चलिए जानते हैं, इसके क्या नुकसान हैं, साथ ही जानेंगे मॉनसून में अंडरआर्म्स हाइजीन (underarms hygiene) मेंटेन रखने के टिप्स।

सीके बिरला हॉस्पिटल गुरुग्राम की कंसलटेंट डर्मेटोलॉजिस्ट, डॉ सीमा ओबेरॉय लाल ने अंडरआर्म्स शेविंग से जुड़े कुछ संभावित साइड इफेक्ट्स (Underarm Shaving side effects in monsoon) पर बात की है।

जानें शेविंग के साइड इफेक्ट्स (Underarm Shaving side effects in monsoon)

डॉक्टर सीमा ओबेरॉय लाल ने मानसून में शेविंग करने के कुछ संभावित साइड इफेक्ट्स बताएं हैं। तो चलिए जानते हैं, इस बारे में, और आगे से इस गलती को दोहराने से पहले इन बातों को याद रखें।

1. हेयर फॉलिकल में सूजन

मानसून के दौरान नमी बढ़ने के कारण अंडरआर्म्स को शेव करने से कई नकारात्मक परिणाम नजर आ सकते हैं। नमी युक्त वातावरण कीटाणुओं के विकास को बढ़ावा देता है, जिसके परिणामस्वरूप संक्रमण या फॉलिकुलिटिस हो सकता है, जो बालों के रोम की सूजन है।

skin dark hone se kaise bachaayein
एन्थोसिस नाइग्रिकन के चलते स्किन थिक और डार्क होने लगती है। इसके चलते स्किन के फोल्डस की त्वचा प्रभावित होने लगती है। चित्र: शटरस्टॉक

2. लाल चकत्ते

शेविंग करने से एपिडर्मिस भी खत्म हो जाता है, जिससे त्वचा पर चकत्ते, सूजन और लालिमा होने की संभावना अधिक होती जाती है। इसके अलावा, मानसून के दौरान अत्यधिक पसीने के कारण त्वचा में जलन और बेचैनी हो सकती है। एक और आम समस्या है।

3. इन ग्रोन हेयर्स

इन ग्रोन हेयर, जो त्वचा में बालों के वापस उगने के कारण होने वाले दर्दनाक दाने हैं। शेविंग के बाद अक्सर महिलाएं इसका अनुभव करती हैं, जिससे उन्हें काफी परेशानी होती है।

4. जलन हो सकती है

जब आप रेजर के इस्तेमाल से शेविंग करती हैं, तो ऐसे में कट लगने का खतरा बना रहता है। वहीं इनग्रोन हेयर भी आपको परेशान कर सकता है। इस स्थिति में नमी होने से अंडरआर्म से अधिक पसीना आता है, जिसकी वजह से बेहद जलन का अनुभव होता है। क्योंकि दाने, लाल चकते और कट लगे स्थान पर जलन और इरिटेशन होता है। वहीं कई बार त्वचा संबंधी संक्रमण भी आपको परेशान कर सकते हैं।

शेविंग के नकारात्मक प्रभाव को कैसे कम करें

डर्मेटोलॉजिस्ट के अनुसार “इन नकारात्मक प्रभावों को कम करने के लिए अच्छी स्वच्छता का अभ्यास करना, साफ, तेज रेजर का उपयोग करना वहीं सेविंग के पहले स्किन को एक्सफोलिएट करना जरूरी है। शेविंग के बाद अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज़ करना न भूलें। इसके अतिरिक्त, कॉटन के एयर पास करने वाले कपड़े पहनें, ऐसे में क्षेत्र को सूखा रखने और संक्रमण और जलन की संभावना कम करने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें: Alum Spray : अंडर आर्म्स बहुत डार्क हैं, तो ट्राई करें होममेड फिटकरी स्प्रे, हम बता रहे हैं बनाने का तरीका

हालांकि, बरसात के मौसम में शेविंग को पूरी तरह से अवॉइड करना ही एक अच्छा आईडिया है। आप शेविंग और वैक्सिंग की जगह बालों से होने वाले इर्रिटेशन को अवॉयड करने के लिए ट्रिमिंग कर सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
under arms ki safai jaruri hai
शेविंग के बाद अंडरआर्म्स का रखें ध्यान। चित्र- शटरस्टॉक।

शेविंग के बाद अंडरआर्म्स इरिटेशन से बचने के लिए फॉलाे करें ये टिप्स

शेविंग के बाद यदि अंडर आर्म्स में इरिटेशन हो रहा है, या रेजर बर्न हो गया है, जिसमें इन्फ्लेमेशन, ड्राइनेस, रैशेज और लाल रंग के चलते नजर आ रहे हैं, तो इन टिप्स को फॉलो करें:

1. ठंडे पानी में कॉटन के कपड़े को गिला करके अपने अंडरआर्म्स की सिकाई करें, जिससे कि स्किन को राहत मिलेगी।

2. पसीने को लंबे समय तक त्वचा पर न रहने दें। हर 2 घंटे के बाद अपनी अंडर आर्म्स को गीले कपड़े से क्लीन करें और इस पर जेल या वॉटर बेस्ड मॉइश्चराइजर अप्लाई करें।

3. पानी में टी ट्री ऑयल डालकर अपने अंडर आर्म्स पर लगाएं, इससे इंफेक्शन और इन्फ्लेमेशन को कम करने में मदद मिलेगी।

4. यदि आप चाहें तो राहत के लिए ओटमील बाथ ले सकती हैं।

5. बारिश के मौसम में नमी बढ़ने से शेविंग के बाद अधिक इरिटेशन हो सकती है। इसमें टेलकम पाउडर आपकी मदद करेगा। परंतु कोशिश करें की इस पर फ्रेगनेंस फ्री पाउडर अप्लाई करें।

यह भी पढ़ें: Armpit Rash : सर्दी के मौसम में भी परेशान कर सकते हैं आर्मपिट रैश, जानिए क्या हो सकता है इनका समाधान

  • 122
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख