आपके पैरों के नाखूनों को भी चाहिए मानसून में एक्स्ट्रा केयर, ये 6 होम रेमेडीज आ सकती हैं काम

बरसात का मौसम जलजमाव के कारण कई तरह के संक्रमणों को जन्म दे सकता है। पैर के नाखूनों में होने वाला फंगल इन्फेक्शन ऐसी ही एक समस्या है। इस मौसम में टोनेल्स की देखभाल के लिए कुछ होम रेमेडीज काम आ सकती हैं।

fungal infection
आपके पैरों के नाखूनों को भी चाहिए एक्स्ट्रा केयर। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 2 August 2022, 20:43 pm IST
  • 145

बरसात के मौसम में कई तरह के संक्रमण होने की संभावना बनी रहती है। उन्हीं में से एक है नाखून में होने वाला फंगल इनफेक्शन (Fungal infection)। बारिश का जमा हुआ गंदा पानी और ह्यूमिडिटी आपके नाखून में फंगल इन्फेक्शन का कारण बन सकते हैं। यह खासकर पैर के अंगूठे के नाखून को प्रभावित करता है। इसके प्रति लापरवाही करना इसे बढ़ने का मौका देना है। इसलिए इस मानसून अपने टो नेल्स को भी थोड़ा सा प्यार दिखाएं। यहां हम उन होम रेमेडीज (fungal infection in toe nails) के बारे में बता रहे हैं, जो आपके पैर के नाखूनों को फंगल इन्फेक्शन से बचाने में मदद करेंगी।

यहां हैं फंगल इन्फेक्शन से निजात पाने के 5 कारगर उपाय

1. टी ट्री ऑयल

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक डेटा के अनुसार टी ट्री ऑयल में मौजूद एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक गुण फंगल इंफेक्शन से निजात पाने में मदद करते हैं। वहीं कई अन्य स्टडीज की मानें तो टी ट्री ऑयल में मौजूद प्रॉपर्टी पैर के अंगूठे में हुए इंफेक्शन में कारगर हो सकते हैं। उचित परिणाम के लिए नियमित रूप से इसे कॉटन में लगाकर इनफेक्टेड जगह पर अप्लाई करें।

lehsun ke fayade
फंगल इन्फेक्शन जैसी समस्यायों में फायदेमंद हैं लहसुन की कलियाँ। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. लहसुन

पब मेड सेंट्रल द्वारा लहसुन को लेकर किए गए एक शोध के अनुसार इसमें एंटी फंगल और एंटीमाइक्रोबॉयल प्रॉपर्टी मौजूद होती है। लहसुन की कलियों को काटकर इनफेक्टेड एरिया पर हल्के हाथों से रगड़ें।

इसके साथ ही लहसुन के तेल में व्हाइट विनेगर मिलाकर कॉटन की मदद से अफेक्टेड एरिया पर लगा कर कुछ देर के लिए छोड़ दें। वहीं उचित परिणाम के लिए इस प्रतिक्रिया को दिन में कम से कम 2 बार दोहराएं।

3. एप्पल साइडर विनेगर

एप्पल साइडर विनेगर एसिडिक नेचर का होता है और फंगल इंफेक्शन को फैलने से रोकता है। किसी कंटेनर में बराबर मात्रा में पानी और एप्पल साइडर विनेगर को मिला लें। अब इसमें अपने इनफेक्टेड नेल्स को 20 मिनट तक भिगोएं रखें, उसके बाद पैरों को बाहर निकाल कर नाखून को सुखा लें। इसे नियमित रूप आजमाएं आपको काफी हद तक सुधार देखने को मिलेगा।

gharelu upaay
बेकिंग सोडा आपके नाखुनो के लिए होते हैं फायदेमंद। चित्र : शटरस्टॉक

4. बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा मॉइस्चर सोखता है। वहीं इसमें मौजूद प्रॉपर्टी फंगी को खत्म करने की जगह इन्हें फैलने से रोकती हैं। ऐसे में इंफेक्शन के शुरुआती दौर में ही इसका इस्तेमाल कर लेना समस्या को बढ़ने से रोकने में मदद करेगा। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक शोध में बताया गया कि बेकिंग सोडा फंगल ग्रोथ को रोकता है।

5. गुलाब जल और एलोवेरा

गुलाब जल और एलोवेरा को मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। इसे बारिश के मौसम में नियमित रूप से अपने नाखूनों पर अप्लाई कर सकती हैं। यह आपके नाखून को हेल्दी बनाए रखता है। पब मेड सेंट्रल द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो नाखून में होने वाले संक्रमण के प्रभाव को कम कर देता है। वहीं आपके नाखून को चमकीला और मुलायम बनाए रखता है।

6. माउथवॉश

माउथवॉश में मौजूद इंग्रेडिएंट्स जैसे कि मेंथॉल, थाईमॉल और यूकेलिप्टस में एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। यह सभी प्रॉपर्टी फंगल इंफेक्शन से लड़ने में मददगार हो सकती हैं। इसे इस्तेमाल करने के लिए किसी बड़े से कंटेनर में पानी लें और उसमें माउथवॉश मिलाएं और अपने प्रभावित पैर को कुछ देर इसमें डुबोये रखें।

यह भी पढ़ें : दांत दर्द ही नहीं, त्वचा संबंधी समस्याओं में भी है कारगर लौंग का तेल, जानिए इसके 6 फायदे

  • 145
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें