बालों को सुपर स्ट्रॉन्ग बना सकता है तरबूज के बीज का तेल, जानिए इसे कैसे बनाना है और इस्तेमाल करना है

विटामिन, मिनरल, जिंक और पोटेशियम से भरपूर तरबूज के बीज़ गर्मी में बालों को प्रोटेक्ट करते हैं। जानते हैं तरबूज के बीज के फायदे और इससे तेल तैयार करने की विधि। जानें तरबूज के बीज का तेल किस प्रकार से हैं बालों के लिए फायदेमंद
Watermelon seeds hair problems ko control kar sakte hain
विटामिन, मिनरल और फैटी एसिड से भरपूर तरबूज के बीज स्कैलप को हाइड्रेट रखने में मदद करते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Published: 17 May 2024, 09:30 am IST
  • 141

गर्मियों में लोग शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए तरबूज का सेवन करते हैं। मगर तरबूज से निकलने वाले ढ़ेर सारे बीजों को अक्सर फेंक देते हैं। जहां तरबूज को खाने से शरीर को कई फायदे मिलते हैं, तो वहीं इसके बीज से तैयार तेल बालों की जड़ों को मज़बूती प्रदान करने में मदद करते हैं। विटामिन, मिनरल, जिंक और पोटेशियम से भरपूर तरबूज के बीज़ गर्मी में बालों को प्रोटेक्ट करते हैं। जानते हैं तरबूज के बीज के फायदे और इससे तेल तैयार करने की विधि।

जानें तरबूज के बीज का तेल बालों के लिए किस प्रकार से हैं फायदेमंद

1. बालों को रखे मॉइश्चराइज़

विटामिन, मिनरल और फैटी एसिड से भरपूर तरबूज के बीज स्कैलप को हाइड्रेट रखने में मदद करते हैं। इससे बालो को मज़बूती मिलती है और स्कैल्प पर बढ़ने वाले रूखेपन से राहत मिल जाती है। इस नेचुरल कंडीशनर को बालों पर अप्लाई करने से फ्रिज़ीनेस की समस्या से राहत मिल जाती है।

2. हेयरफॉल से राहत

बालों की जड़ों की मज़बूती को बनाए रखने के लिए तरबूज के बीज से बने तेल को बालों के बीचों बीच लगाएं। इसमें मौजूद विटामिन ए, जिंक और पोटेशियम से हेयर फॉलिकल्स को मज़बूती मिलती है, जिससे बालों का टूटना और झड़ना बंद हो जाता है। साथ ही बालों की शाइन बनी रहती है।

Water melon seed oil ko baal me lgane se fayda milta hai.
बालों की जड़ों की मज़बूती को बनाए रखने के लिए तरबूज के बीज से बने तेल को बालों के बीचों बीच लगाएं।। चित्र अडोबी स्टॉक

3. बालों को बनाए मुलायम

गर्मी के मौसम में बढ़ने वाली फ्रिजीनेस को दूर करने के लिए वॉटरमेलन सीड ऑयल को बालों में अप्लाई करे। इससे स्कैल्प की ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने लगती है, जिससे सेल्स को रिपेयर करने में मदद मिलती है और बालों के टैक्सचर को इंप्रूव करने में मदद मिलती है।

4. स्कैल्प के रूखेपन को करे कम

स्कैल्प पर नमी की कमी के कारण रूखापन बढ़ने लगता है। इससे स्कैल्प इचिंग और फ्रिज़ीनेस का सामना करना पड़ता है। स्कैल्प के पीएच को मेंटेन रखने और सीबम प्रोडक्शन को बनाए रखने के लिए तरबूज के सीड्स से तैयार सप्ताह में 2 से 3 बार अप्लाई करें।

तरबूज के बीज का तेल कैसे बनाएं

तरबूज के बीज से तेल बनाने के लिए सीड्स को कुछ देर भिगोकर रखें। इससे तरबूज के बीज का छिलका मुलायम हो जाता है।

अब सीड्स को सुखाकर उसका पाउडर तैयार कर लें। पाउडर में आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर उसे 10 से 15 मिनट तक गूंथे।

उसके बाद तैयार मिश्रण को निचोड़ें और उसमें से तेल निकलने लगता है।

तैयार तेल को कांच की बोतल में स्टोर कर लें। इसे बालों में लगाने से बालों का टूटना, झड़ना और रूखेपन की समस्या से बचा जा सकता है।

Watermelon seed oil kaise banayein
तरबूज के बीज से तेल बनाने के लिए सीड्स को कुछ देर भिगोकर रखें। इससे तरबूज के बीज का छिलका मुलायम हो जाता है। चित्र : अडोबीस्टॉक

तरबूज के बीज के तेल से इस तरह तैयार करें हेयरमास्क

1. एवोकाडो और तरबूज के बीज का तेल

बालों को स्मूद और मुलायम बनाने के लिए 1 चम्मच एवोकाडो के पल्प में कुछ बूंद तरबूज के बीज के तेल को मिलाएं और मिक्स कर दें। अब इसे बालों में अप्लाई करें। 10 से 15 मिनट तक बालों में लगाए रखने के बाद बालों को धो दें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

2. तरबूज के बीज का तेल और दही

नेचुरल मॉइश्चराइजिंग गुणों से भरपूर दही को तरबूज के बीज के तेल में मिक्स करके बालों की जड़ों से एंड्स तक लगाएं। इससे बालों में बढ़ने वाली फ्रिजीनेस और इची स्कैल्प की समस्या से बचा जा सकता है। इसे बालों में लगाकर कुछ देर रखने के बाद बालों को सामान्य पानी से धोएं।

Hair mask kaise tayaar karein
नेचुरल मॉइश्चराइजिंग गुणों से भरपूर दही को तरबूज के बीज के तेल में मिक्स करके बालों की जड़ों से एंड्स तक लगाएं। चित्र- अडोबी स्टॉक

3. एलोवेरा जेल और वॉटरमेलन सीड ऑयल

कूलिंग प्रॉपर्टीज़ से भरपूर एलोवेरा जेल को लगाने से बालों को यूवी रेज़ से होने वाले नुकसान से राहत मिलती है। इससे बाल हेल्दी और मुलायम बनते हैं। एलोवेरा जेल को वॉटरमेलन सीड ऑयल में मिलाएं और बालों में अप्लाई करें। इसे लगाने के बाद बालों को कवर कर लें। 15 से 20 मिनट के बाद बालों को धोएं। इससे बालों का रूखापन कम होने लगता है।

ये भी पढ़ें- धूल और पसीना आपके बालों को और भी खराब कर सकते हैं, जानिए गर्मियों में फ्रिजी हेयर से निपटने के तरीके

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख