और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

आपकी त्‍वचा पर दुल्‍हन सा निखार ला सकता है पारंपरिक उबटन, जानिए इसे बनाने और लगाने का तरीका

Updated on: 10 December 2020, 10:56am IST
उबटन के गुण तो हम सबने नानी-दादी से सुन ही रखें होंगे। तो आज इसे बनाने का तरीका भी जान लें। हम बताते हैं कैसे बनाना है पारंपरिक उबटन।
विदुषी शुक्‍ला
  • 104 Likes
tawacha ke liye walnut scrub
त्‍वचा में निखार लाने के लिए जानिए वॉलनट स्क्रब बनाने और लगाने का तरीका। चित्र- शटरस्टॉक।

उबटन के बारे में कौन नहीं जानता, बचपन में हम में से अधिकांश लोगों ने सर्दियों में दादी या नानी को उबटन लगाते देखा भी होगा और लगवाया भी होगा। देखा जाए तो उबटन स्किन केयर का सबसे पुराना तरीका है और सबसे असरदार भी।
उबटन के गुणों से लेकर उसे बनाने और लगाने के तरीके तक, हम आपको बताएंगे।

क्या है उबटन?

उबटन का जिक्र आयुर्वेद से लेकर हमारे इतिहास में भी है। राजा-महाराजाओं के समय से उबटन का प्रयोग त्वचा को निखारने के लिए किया जाता रहा है। इसमें डाले जाने वाले उत्पाद बहुत ही सामान्य है और आपको किचन में आसानी से मिल जाएंगे।
उबटन में बेसन, दूध, हल्दी, सरसों या नारियल का तेल और गुलाब जल डाला जाता है। कई जगह गेंहू का आटा, बादाम या चिरौंजी का पाउडर और नींबू का रस भी मिलाया जाता है।

उबटन त्वचा के लिए बहुत लाभकारी होती है, इसके नियमित इस्तेमाल से स्किन प्रॉब्लम खत्म होती है। चित्र- शटरस्टॉक।

कैसे बनाएं पारंपरिक उबटन

उबटन को पारंपरिक रूप से बनाने के लिए
·दो चम्मच बेसन
·एक चम्मच आटा
·आधा चम्मच नारियल का तेल (गर्मियों में तेल स्किप कर सकती हैं)
· 2 से 3 चम्मच दूध
·एक चुटकी हल्दी
·कुछ बूंद गुलाबजल
इन सभी चीजों को मिलाएं और पेस्ट तैयार कर लें।

इस्तेमाल करने का तरीका

इस पेस्ट को त्वचा के बालों की दिशा में लगाएं। उबटन की मोटी परत लगाकर उसे 15 मिनट सूखने दें। ध्यान रखें कि यह हल्का गीला ही रहे वरना छुड़ाने में आपकी त्वचा पर रैशेस हो सकते हैं।
अब हल्के हाथ से बालों की उल्टी दिशा में इसे रगड़ना शुरू करें और रगड़ते हुए छुड़ाएं। पूरा उबटन छूट जाने के बाद सिर्फ पानी से चेहरा धो लें। साबुन का इस्तेमाल बिल्कुल न करें।

क्या हैं उबटन के फायदे-

इससे गन्दगी, तेल और डेड स्किन सेल्स निकल जाते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

1. दमकती त्वचा देता है उबटन

उबटन त्वचा में ग्लो लाता है। यह त्वचा के लिए सबसे अच्छा और प्राकृतिक फेस मास्क है। बेसन डेड स्किन सेल्स निकालता है। दूध काले दाग-धब्बे कम करता है और हल्दी त्वचा को ग्लो देती है। यही कारण है कि पुराने समय में शादी से पहले वर-वधु को नियमित उबटन लगाया जाता था। यह त्वचा को किसी महंगे फैशियल जैसा ही ग्लो देता है, वह भी बिना किसी केमिकल के।

2. शरीर के अनचाहे बाल हटाता है

उबटन शरीर से अनचाहे बाल हटाने में भी मदद करता है। जिस तरह उबटन को बालों की ग्रोथ के उल्टे दिशा में छुड़ाया जाता है, यह रोएं जड़ से निकालता है। नियमित रूप से उबटन लगाने से यह शरीर के बालों की ग्रोथ भी कम करता है।

3. एक्ने की समस्या से निजात दिलाने में सहायक

उबटन में मौजूद हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं, जो मुंहांसे दूर रखने में कारगर होते है। इसके साथ ही गुलाबजल त्वचा को राहत देता है और इंफ्लामेशन कम करता है।

 त्वचा में चाहिए प्राकृतिक चमक, तो अपनाएं साबूदाना का फेस मास्क

4. त्वचा को मॉइस्चर देता है

उबटन सिर्फ एक स्क्रब और एक्सफोलिएटर की तरह ही काम नहीं करता, बल्कि मॉइस्चराइजर का भी काम करता है। इसमें मौजूद नारियल तेल त्वचा को नमी देता है और दूध त्वचा को कोमल बनाता है।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।