वैलनेस
स्टोर

क्या बार-बार तेल बदलना भी हो सकता है हेयर फॉल का कारण? एक्सपर्ट दे रहीं हैं इसका सही जवाब

Updated on: 6 September 2021, 15:14pm IST
कोविड के बाद जिन समस्याओं में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है, उनमें हेयर फॉल भी एक है। पर क्या आप जानती हैं कि सही हेयर ऑयल का चुनाव इस समस्या से निजात दिला सकता है।
योगिता यादव
  • 90 Likes
hair oil aur hair fall ka bhi connection hai
सही हेयर ऑयल आपके बालों को झड़ने से रोक सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

हेयर फॉल (Hair Fall) इस समय की सबसे बड़ी ब्यूटी प्रोब्लम (Beauty Problem) है। पोषण की कमी तो हेयर फॉल का कारण है ही, पर कोविड (Covid-19) के बाद इसमें और भी ज्यादा बढ़ाेतरी हुई है। हर रोज लोग बाल झड़ने की समस्या लेकर हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं। हेयर फॉल के विभिन्न कारणों पर जब हमने गौर किया तो देखा कि आपके बालों और सही हेयर ऑयल (Best Hair oil) का एक बहुत गहरा कनैक्शन है। और इसमें ट्रेंड के अनुसार बार-बार बदलाव करना (Changing hair oil) भी हेयर फॉल का कारण हो सकता है।

आपके बाल और तेल का कनैक्शन 

बालों की मजबूती पर केश तेल का क्या असर पड़ता है यह जानने के लिए हमने एस्थेटिक क्लिनिक एंड फोर्टिस हॉस्पिटल, मुंबई की कॉस्मेटिक डर्टोमेलॉजिस्ट एवं डर्मेटो-सर्जन डॉ. रिंकी कपूर से बात की।

डॉ. रिंकी कपूर कहती हैं, “तेल लगाने और बालों का संबंध सदियों पुराना है। हमारे बालों को अपने रंग, मजबूती और चमक को बनाए रखने के लिए तेल की जरूरत होती है। सिर्फ इतना ही नहीं यह बालों को धूप की हानिकारक किरणों से भी सुरक्षा प्रदान करता है।”

क्यों जरूरी है हेयर ऑयलिंग (Hair Oiling)

हेयर फॉल और हेयर ऑयलिंग कनैक्शन पर डॉ. कपूर बताती हैं, “जब आप अपने बालों में तेल लगाते हैं, तो यह स्कैल्प में सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। और यह हेयर फॉलिकल को उत्तेजित करता है। हालांकि तेल लगाने और बालों के विकास में कोई सीधा संबंध नहीं है। इसके बावजूद बालों की सुरक्षा के लिए हेयर ऑयलिंग एक अच्छा रुटीन है।”

Hair oiling apke balo ko mazboot banati hai
हेयर ऑयलिंग आपके बालों को मजबूत बनाती है। चित्र: शटरस्टॉक

यहां हैं सही हेयर ऑयलिंग के फायदे 

  1. सही तरीके से तेल लगाने से आपके बालों की रक्षा हो सकती है और इसे सूखने से रोका जा सकता है।
  2.  यह बालों को डैमेज होने से रोकता है।
  3.  तेल बालों के क्यूटिकल को सील करके और स्ट्रैंड को ठीक करने में मदद करता है।
  4. किसी भी अच्छे हेयर ऑयल में मौजूद फैटी एसिड बालों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।

यहां है बालों में तेल लगाने का सही तरीका 

वास्तव में आपके बालों को लाभ पहुंचाने के लिए सही तरीके से तेल लगाना जरूरी है। डॉ.कपूर के अनुसार, “सुनिश्चित करें कि आप तेल को बहुत जोर से न रगड़ें और इसे अपने बालों पर एक घंटे से अधिक समय तक न रहने दें। यदि आप बालों में लंबे समय तक तेल लगा रहने देती हैं, तो यह छिद्रों को बंद कर सकता है और बालों तक पहुंचने वाली ऑक्सीजन को काट देता है।”

“बहुत ज्यादा देर बालों में तेल लगाकर रखने से भी बाल डैमेज हो सकते हैं। इससे स्कैल्प में दाने, फुंसियां आदि हो सकती हैं, जिससे बाल टूटकर झड़ने लगते हैं।”

इस स्थिति में नहीं लगाना चाहिए बालों में तेल 

इसके अलावा, तेल लगाना उन लोगों के लिए उपयुक्त नहीं है जो रूसी से पीड़ित हैं या जिनकी स्कैल्प नेचुरली तैलीय है। तेल को ज्यादा देर तक रखने से धूल और कण स्कैल्प की ओर आकर्षित होते हैं। अलग-अलग हेयर ऑयल के अलग-अलग फायदे होते हैं और आप अपने बालों की प्रकृति और आवश्यकतानुसार किसी भी तेल का चयन कर सकती हैं। पर इसे बार-बार बदलना आपके बालों के लिए हानिकारक हो सकता है।

बार-बार तेल बदलना भी हो सकता है हेयर फॉल का कारण 

हेयर फॉल का मतलब है कि आपके बाल कमजोर होकर खत्म हो रहे हैं। यानी आप जो पोषण उन्हें दे रहे हैं, वह उनके हिसाब से उचित नहीं है। इसलिए यह जान लेना जरूरी है कि आपके बालों के लिए कौन सा तेल सबसे ज्यादा उपयुक्त है।

सही हेयर ऑयल के चुनाव पर डॉ. रिंकी सुझाव देती हैं कि तेल बालों में कंडीशनर का काम करता है। यह बालों की क्यूटिकल को सुरक्षित रखता है। जिसे हम अमूमन प्रीकंडीशनर की तरह इस्तेमाल करते हैं। साथ ही जब हम स्कैल्प में तेल की मालिश करते हैं, तो उससे रक्त का प्रवाह बढ़ता है और बाल हेल्दी होते हैं।

sabse pahle check kare ki kya ye apke balo ke liyw sahi hair oil hai
सबसे पहले चैक करें कि क्या ये आपके बालों के लिए सही हेयर ऑयल है। चित्र: शटरस्टॉक

नारियल का तेल बालों के लिए बेस्ट माना गया है। यह बालों के शाफ्ट की दस से पंद्रह लेयर तक अंदर तक जा सकता है। आंवला और जैतून के तेल भी बालों के लिए अच्छे माने जाते हैं। पर नारियल के तेल को उसी डीप पेनेट्रेशन के लिए जाना जाता है। इसके बावजूद यह जरूरी नहीं कि सभी के बालों के लिए नारियल तेल काम करे। कुछ लोगों को इससे नुकसान भी हो सकता है।

गाढ़े और पतले तेल 

कोकोनट और आंवला का तेल बहुत गाढ़ा होता है। जिन लोगों के बालों का टेक्स्चर बहुत पतला है या बाल बहुत कमजोर हैं, तो उन्हें यह गाढ़े तेल सूट नहीं करते। इसलिए उन्हें जैतून के तेल जैसे पतले तेलों का इस्तेमाल करना चाहिए।

जब आप बार-बार तेल बदलते हैं, तो इससे कभी-कभी हेयर फॉल की समस्या हो सकती है। क्योंकि सभी के बालों का टेक्सचर अलग-अलग होता है और सभी ऑयल सभी को सूट नहीं करते। इसलिए किसी भी हेयर ऑयल का चयन करने से पहले यह जरूर देख लें कि वह आपके बालों के हिसाब से सही है भी या नहीं।

पतले और कमजोर बालों पर गाढ़ा तेल लगाने से समस्या बढ़ सकती है। जबकि आंवला और नारियल जैसे गाढ़े तेल ज्यादातर लाेगों के लिए फायदेमंद होते हैं।

यह भी पढ़ें – आयुर्वेद के अनुसार आपका बेस्ट ब्यूटी केयर प्रोडक्ट है नीम, हेल्दी स्किन और बालों के लिए इस तरह करें उपयोग

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।