उपचार के बावजूद क्यों बार-बार लौट आते हैं पिंपल्स? ये 5 गलतियां हो सकती हैं जिम्मेदार 

Published on: 1 July 2022, 20:54 pm IST

क्या आप अपने एक्ने-पिंपल्स का लगातार ट्रीटमेंट करा रही हैं? इसके बावजूद आपको सही रिजल्ट नहीं मिल रहे हैं। आप चिंता न करें, हेल्थ शॉट्स आपको बता रहा है कि उपचार के दौरान आप किन-किन गलतियों को दोहरा रही हैं? ।

pimples kyon nikalte hain
स्किन पोर्स बंद हो जाने कारण पिंपल्स निकलते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

क्या उपचार के बावजूद एक्ने-पिंपल्स और ब्रेकआउट आपके चेहरे से जा नहीं रहे हैं? हम आपको बताते हैं कि ऐसा क्यों हो रहा है? बहुत से कारण हैं, जिनकी वजह से लाख प्रयास करने पर भी त्वचा पर मुंहासे कम नहीं होते हैं। मुंहासे की दवा कोई ऐसी चीज नहीं है, जो हर समय आपकी मदद कर सकती है। उस समय बहुत निराशा होती है, जब स्किन पर किसी भी तरह की दवा काम नहीं करती है और मुंहासे (acne and pimple causes) लगातार स्किन पर बने ही रहते हैं।

 इसके बारे में विस्तृत जानकारी के लिए हेल्थ शॉट्स ने नेचुरोपैथी एक्सपर्ट और उनिकाया के फाउंडर डॉ. गगन भाटिया से बातचीत की। उन्होंने कई ऐसी गलतियों के बारे में बताया, जो बार-बार मुंहासे होने का कारण बनती हैं।

 मुंहासों का इलाज करते समय इन 5 गलतियों से दूर रहें:

 1. स्किन पर स्किनकेयर प्रोडक्ट का बार-बार एक्सपेरिमेंट न करें

अधिक प्रयोग आपकी त्वचा के लिए बहुत समस्याएं पैदा कर सकता है। कभी भी एक साथ कई अलग-अलग प्रकार के उत्पादों का उपयोग नहीं करना चाहिए। इससे त्वचा में जलन हो सकती है और स्किन खराब भी हो सकती है। जब भी मुंहासों की बात आती है, तो हमेशा इसे सामान्य तरीके से लेना चाहिए। 

समय-समय पर एक्सपेरिमेंट तो बिल्कुल नहीं करना चाहिए। कोई भी स्किनकेयर प्रोडक्ट ठीक से काम करे, इसके लिए आपको अपने मौजूदा स्किनकेयर रूटीन को पर्याप्त समय देना चाहिए।

  1. अति को हमेशा न कहें

डॉ. भाटिया कहते हैं, “किसी को कभी-भी स्किनकेयर रूटीन को बहुत ज्यादा मात्रा में फॉलो नहीं करना चाहिए। ओवर-क्लींजिंग, ओवर मॉइस्चराइजिंग या ओवर एक्सफोलिएटिंग भी नहीं करना चाहिए। मुहांसे होने से स्किन खराब लगती है। लेकिन इसके लिए सावधान रहना चाहिए। अति-उपचार तो नहीं करना चाहिए।

3 न छुएं बार-बार

मुंहासे आमतौर पर अपने-आप ठीक हो जाते हैं। यह तभी संभव है जब कोई अपने चेहरे को लगातार न छुए। यदि आप अपने पिंपल्स को फोड़ती हैं, खरोंचती हैं या लिफ्ट करने की आदत है, तो इसका मतलब है कि आप बैक्टीरिया को अपनी स्किन के चारों ओर फैला रही हैं। इससे घटने की बजाय मुंहासे बढ़ेंगे और आपकी ट्रीटमेंट भी सफल नहीं होगी।

 खराब लाइफस्टाइल

डॉ. भाटिया कहते हैं, “मुंहासे का आपके जीवन जीने के तरीके से बहुत संबंध है। मुंहासे की रोकथाम केवल उपयुक्त उत्पादों का उपयोग करने से नहीं की जा सकती है। एक निश्चित जीवन शैली को बनाए रखकर भी कई समस्याओं से निजात मिल सकती है। आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप पिलोकवर को अच्छे से धोती हैं या नहीं। आपकी खान-पान की आदतें कैसी हैं? हाइड्रेटेड रहने और अच्छी नींद लेने से भी स्किनकेयर रूटीन प्रभावित होती है।

  1. स्किनकेयर रूटीन को करें फॉलो

ठीक ही कहा गया है कि रोम एक दिन में नहीं बना। स्किन को भी ठीक होने के लिए समय देना होगा। परिणाम देखने के लिए किसी निश्चित स्किनकेयर रूटीन पर समय देना होगा। स्किनकेयर धैर्य का काम है, जो समय के साथ ही लाभ दिखाता है। अंतिम परिणाम देखने के लिए पर्याप्त समय देना चाहिए और प्रक्रिया के साथ अधीर नहीं होना चाहिए।

 

raat ki achhi nind hai jaruri
साउंड स्लीप स्किन केयर के लिए बहुत जरूरी है। चित्र: शटरस्टॉक

यदि न्यूट्रीशनल डाइट, साउंड स्लीप, हाइड्रेशन, एक्सरसाइज, सही स्किनकेयर आपकी दिनचर्या में शामिल है, तो स्किन केयर ट्रीटमेंट के परिणाम भी अच्छे आएंगे।

यहां पढ़ें:-पिंपल्स और प्यूबिक हेयर के लिए कर रहीं हैं टूथपेस्ट का इस्तेमाल? तो इसके साइड इफेक्ट भी जान लें 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें