बॉडी एक्ने से राहत दिला सकते हैं एक्सपर्ट के बताये ये 5 टिप्स

कुछ चीजें शरीर पर होने वाले एक्ने को ट्रिगर कर सकती हैं, जबकि कुछ इससे राहत दिला सकती हैं। इसलिए आपको जानना चाहिए कि इस दौरान आपको क्या करना है और क्या नहीं।

body acne bahut ziddi hote hai
बॉडी एक्ने बहुत जिद्दी होते हैं। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Updated on: 23 November 2022, 10:42 am IST
  • 147

एक्ने (Acne) बहुत जिद्दी होते हैं और इनसे छुटकारा पाना किसी के लिए भी चुनौतीपूर्ण हो सकता है। चेहरे पर दिखने वाला एक भी पिंपल आपको परेशान कर सकता है। आप इसके लिए ढेरों उपाय करती हैं। पर क्या हो जब एक्ने आपके शरीर पर उग आए। जी हां, बॉडी एक्ने (body acne) फेस पर होने वाले एक्ने से भी ज्यादा जिद्दी होते हैं। इन पर सिर्फ लेप और उबटन ही काम नहीं करते, बल्कि आपको समग्र उपचार की जरूरत होती है। आइए जानते हैं क्या हो सकता है बॉडी एक्ने से छुटकारा पाने का स्वस्थ तरीका।

फेस पर होने वाले मुंहासों के लिए आप बहुत से उपाय करते हैं। लेकिन एक्ने फेस पर होने के साथ ही आपकी बॉडी पर भी हो सकते हैं, जिससे कई लोग परेशान रहते हैं। एक्ने की वजह से महिलाएं अपनी पसंदीदा बैकलेस या कोई ट्रेंडी ड्रेस भी नहीं पहन पाती हैं। इसलिए इससे निजात पाने के लिए लोग घरेलू और अन्य उपाय भी करते हैं। लेकिन आज हम एक्सपर्ट से जानेंगे ऐसी टिप्स जो आपको बॉडी एक्ने की समस्या से निजात (Skincare tips to treat body acne) दिला सकती हैं।

Zyaada cheeni khane se chehre par muhanse ho sakte hai
ज्यादा चीनी खाने से चेहरे पर मुहाँसे हो सकते है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पहले जानते हैं बॉडी एक्ने का कारण

फेस की तरह बॉडी पर एक्ने होना भी काफी आम परेशानी है। स्किन में जमा एक्स्ट्रा ऑयल, तरह-तरह से कॉस्मेटिक प्रोडक्ट, बैक्टीरिया और बालों में इस्तेमाल होने वाले प्रोडक्ट की वजह से यह समस्या हो सकती है।

डॉ. सु, त्वचा विशेषज्ञ हैं, वह कहती हैं कि एक्ने स्किन की तेल ग्रंथियों और फॉलिकल्स को प्रभावित करते हैं। स्किन के पोर्स (Pores) फॉलिकल्स के माध्यम से ग्रंथियों से जुड़े होते हैं। फॉलिकल्स से निकलने वाले बाल स्किन के अंदर से बाहर की तरफ बढ़ते हैं। लेकिन कई बार बाल, ऑयल और स्किन सेल्स एक साथ समूह (प्लग) बना लेते हैं। प्लग में बैक्टीरिया की वजह से सूजन होती है और फिर एक्ने होने लगते हैं।

यह भी पढ़े- Hyponatremia : जानिए क्या है यह बीमारी जो ज्यादा पानी पीने से हो सकती है

जानिए बॉडी एक्ने होने पर आपको क्या करना है और क्या नहीं

1. स्क्रबिंग या ओवर क्लींजिंग से बचें (Avoid scrubbing or over cleansing)

स्किन को हेल्दी रखने के लिए और एक्ने से बचने के लिए लोग अक्सर स्क्रबिंग या क्लींजिंग करते हैं। हालांकि यह स्किन को क्लीन करने का बेहतर तरीका है। पर बहुत ज्यादा स्क्रबिंग या क्लींजिंग करना भी नुकसानदायक होता है। खासकर तब जब आपकी स्किन पर पहले से ही एक्ने हो। यदि आप एक्ने वाली जगह पर स्क्रबिंग या ओवर क्लींजिंग करती हैं, तो इससे ये समस्या और बढ़ सकती है। इसलिए स्क्रबिंग या ओवर क्लींजिंग से बचें।

2. सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें (Apply sunscreen on all exposed skin)

एक्सपर्ट कहती हैं कि अक्सर लोगों को यह लगता है कि वह घर पर हैं, तो उन्हें सनस्क्रीन के इस्तेमाल की आवश्यकता नहीं है। जबकि ऐसा नहीं होता है। यदि आप घर पर भी है तब भी आपको सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि घर में लगी लाइट भी आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकती है।

यदि आप एक्ने से बचाव के लिए विटामिन सी या विटामिन ई को अपने डेली केयर रूटीन में रखती हैं, लेकिन सनस्क्रीन को भूल गयी हैं तो यह रूटीन कार्य नहीं करता है। इसलिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल भी नियमित रूप से करें।

tomato flu se sakramit bachhe ka hydrated bane rahna jaruri hai
पानी कि कमी न होने दें। चित्र शटरस्टॉक

3. हाइड्रेटेड रहें (keep yourself hydrated)

बिजी लाइफस्टाइल और जंक फूड्स के कारण एक्ने होने का खतरा काफी अधिक बढ़ जाता है। अधिकतर लोग मुंहासों से परेशान रहते है। ऐसे में पानी आपके लिए काफी फायदेमंद होता है। दिनभर में भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करने से एक्ने की समस्या से निजात मिल सकती है। एक्ने होने की मुख्य वजहों में पेट और पाचन संबंधी परेशानी है। यदि आपको पेट संबंधित परेशानी है, तो बॉडी एक्ने हो सकते हैं। ऐसे में पानी आपका पेट साफ रखने में सहायता करता है, जिससे एक्ने से राहत मिलती है।

4. सप्ताह में एक बार अपने तकिए के कवर और चादर को बदलें (Change your pillowcases and bed sheet once a week)

एक्सपर्ट के मुताबिक यदि आप बॉडी एक्ने की समस्या से ग्रस्त हैं तो आपको सप्ताह में एकबार अपने तकिये का कवर और चादर को जरूर बदल लेना चाहिए। जिससे बैक्टीरियल इन्फेक्शन का खतरा न हो। एक्ने की एक बड़ी वजह ठीक से साफ़ सफाई न रखना भी होता है। इसलिए साफ़ सफाई विशेष ख्याल रखें।

5. डाइट में हरी सब्जियां और फल शामिल करें (include a lot of green veggies and fruits)

फल और हरी सब्जियों को हेल्थ के लिए लाभकारी माना जाता है। अपने आहार में सब्जियों और फलों को शामिल करने से शरीर को बहुत सी स्वास्थ्य समस्याओं से बचाया जा सकता है। हरी पत्तेदार सब्जियों में पाए जाने वाले पोषक तत्व स्किन को हेल्दी रखने में सहायता करते हैं। दरअसल, पोषक तत्वों की कमी के कारण स्किन में पिंपल, ड्राईनेस और झुर्रियों जैसी परेशानी होने लगती है। इसलिए डाइट में हरी सब्जियां और फल शामिल करें।

यह भी पढ़े- मक्खन सी मुलायम हो जाएगी त्वचा, जब इन 5 तरीकों से करेंगी मलाई का इस्तेमाल

  • 147
लेखक के बारे में
निशा कपूर निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें