एक्ने, पिम्पल्स और मुरझायी त्वचा से हैं परेशान, तो इन 4 आवश्यक विटामिन्स के साथ लाएं त्वचा में परमानेंट निखार

ग्लोइंग स्किन ही आपके चेहरे का सबसे आकर्षक मेकअप है। इसलिए मेकअप प्रोडक्ट की बजाए त्वचा के लिए उपयोगी विटामिनों में कुछ निवेश करें।

acne cause
त्वचा के लिए 4 आवश्यक विटामिन। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 2 October 2022, 15:30 pm IST
  • 146

वातावरण में बढ़ती गंदगी, ग्लोबल वार्मिंग और सूरज की हानिकारक किरणों के कारण त्वचा से जुड़ी समस्याएं बढ़ती जा रही हैं। स्किन एजिंग (Skin aging) , ब्रेकआउट (Breakout), पिम्पल्स (Pimples), एक्ने (Acne) जैसी समस्याएं बिल्कुल आम हो गयी हैं। इनसे बचने के लिए आपने भी बहुत सारे उपाय किए होंगे। तरह-तरह के स्किन ट्रीटमेंट और मेकअप प्रोडक्ट्स इस समस्या को कुछ समय के लिए छुपाते हैं, पर उनका परमानेंट उपचार नहीं करते। इन प्रोडक्ट्स के लगातार इस्तेमाल से कई बार त्वचा और भी ज्यादा डल होने लगती है। इसलिए हेल्थ शॉट्स के इस लेख में जानिए उन विटामिन्स (Vitamins for glowing skin) के बारे में जो आपकी त्वचा में स्थायी निखार ला सकते हैं।

क्या है रूखी और मुरझायी त्वचा का उपचार

इसका सबसे प्रभावी और स्थायी उपाय है शरीर मे पर्याप्त मात्रा में आवश्यक पोषक तत्वों की मौजूदगी। स्किन हेल्थ को बनाये रखने में विटामिन्स की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कुछ ऐसे विटामिन हैं जो आपकी त्वचा के लिए काफी ज्यादा जरुरी होते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप ऐसे खाद्य पदार्थों को आहार में शामिल करें, जो त्वचा को अंदर से पोषण दें। चलिए जानते हैं क्या हैं वह 4 आवश्यक विटामिन और किस तरह यह स्किन हेल्थ के लिए फायदेमंद होते हैं।

vitamin D
त्वचा के लिए जरुरी है विटामिन डी. चित्र: शटरस्टॉक

यहां हैं त्वचा के लिए 4 आवश्यक विटामिन

1. विटामिन डी (Vitamin D)

हेल्दी स्किन के लिए शरीर मे विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा होना जरूरी है। सन लाइट विटामिन डी का एक सबसे अच्छा स्रोत है। जब हम सूरज की किरणों से विटामिन डी प्राप्त करते हैं, तो ऐसे में कोलेस्ट्रॉल विटामिन डी में बदल जाता है।

वहीं लीवर और किडनी इन्हें स्किन सेल्स तक पहुंचाती हैं और स्वस्थ बनाए रखती हैं। कैल्सीट्रियोल शरीर में प्राकृतिक रूप से बनने वाला विटामिन डी है। वहीं यह त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं का एक प्रभावी इलाज हो सकता है।

अब जानें शरीर में किस तरह बढ़ा सकती हैं विटामिन डी

पूरे दिन में कम से कम 8 से 10 मिनट सन लाइट के संपर्क में रहने की कोशिश करें।

विटामिन डी से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें जैसे की डेयरी और प्लांट मिल्क, ऑरेंज जूस, अनाज, सालमन, मशरूम, इत्यादि।

विटामिन डी से युक्त होममेड फेस मास्क भी अप्लाई कर सकती हैं। इसे बनाने के लिए आपको चाहिए एग योल्क, ओट्स और योगर्ट। इसे एक साथ मिलाकर अपनी त्वचा पर अप्लाई करें और 15 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें, फिर इसे नार्मल वॉटर से साफ कर लें।

vitamin C zaroori h
विटामिन सी है जरूरी। चित्र:शटरस्टॉक

2. विटामिन सी (Vitamin C)

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा की गई एक स्टडी की माने तो विटामिन सी त्वचा के हाइड्रेशन को बनाए रखती है। इसके साथ ही यह हाइपरपिगमेंटेशन, सनस्पॉट, ऐज स्पॉट और मेलास्मा जैसी समस्याओं को नियंत्रित रखती है।

स्टडी के अनुसार जब त्वचा में मेलानिन का प्रोडक्शन ज्यादा होने लगे तो ऐसी समस्याएं देखने को मिलती है। ऐसे में शरीर में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा मेलानिन प्रोडक्शन को नियंत्रित रखने में मदद करती हैं।

विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट स्किन के सेल्स डैमेज को रिपेयर करती हैं। इसके साथ ही यह सूरज की हानिकारक किरणों एवं ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से होने वाली समस्यायों में कारगर मानी जाती हैं।

पब मेड सेंट्रल द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार विटामिन सी डार्क सर्कल और अंडर आई पिगमेंटेशन जैसी समस्या का एक उचित निदान हो सकता है।

अब जानें शरीर में किस तरह बढ़ा सकती हैं विटामिन सी

पर्याप्त मात्रा में खट्टे फल जैसे की संतरा इत्यादि का सेवन करें।

अन्य प्लांट बेस्ड विटामिन डी से युक्त फूड्स जैसे कि स्ट्रौबरी, ब्रोकली और पालक को अपनी डाइट में शामिल करें।

संतरे के छिलके से बने पाउडर में शहद मिलाकर त्वचा पर अप्लाई करें। यह आपकी त्वचा को पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी देता है। इसके साथ ही हफ्ते में एक बार नींबू रगड़ने से भी हाइपरपिगमेंटेशन जैसी समस्या से राहत मिलेगी।

vitamins-for-women
त्वचा के लिए जरुरी है विटामिन के. चित्र: शटरस्टॉक चित्र: शटरस्टॉक।

3. विटामिन के (Vitamin K)

विटामिन के ब्लड क्लोटिंग कि समस्या में फायदेमंद होता है। ऐसे में शरीर पर हुए घाव और दाग धब्बो को हील होने में आसानी होती है। वहीं विटामिन के स्ट्रेच मार्क, स्पाइडर वेन्स, स्कार्स, डार्क स्पॉट्स, अंडर आई डार्क सर्कल्स जैसी समस्याओं से निजात पाने में मदद करता है।

यदि आपका ऑपरेशन हुआ है, और आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन के हैं, तो यह आपके हीलिंग प्रोसेस को फ़ास्ट कर देता है।

इस तरह शरीर को दें पर्याप्त विटामिन के

विटामिन के का सबसे अच्छा स्रोत हरी पत्तेदार सब्जियां होती हैं। वहीं गोभी, पालक, सलाद पत्ता, पत्ता गोभी और हरी सेम को अपनी नियमित डाइट में शामिल करें।

अपने कुकिंग ऑयल को सोयाबीन ऑयल से सब्सीट्यूट करें। सोयाबीन ऑयल में पर्याप्त मात्रा में विटामिन के मौजूद होता है।

फिश और नट्स का सेवन करें। नियमित रूप से एक मुट्ठी मिक्स्ड नट्स खाएं यह शरीर में विटामिन के की कमी को पूरा करेगा।

vitamin e
त्वचा के लिए जरुरी है विटामिन ई। चित्र : शटरस्टॉक

4. विटामिन ई (Vitamin E)

विटामिन ई त्वचा पर एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। यह त्वचा के लिए कई रूपों में फायदेमंद हो सकता है। वहीं विटामिन ई त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से प्रोटेक्ट करता है।

यह त्वचा पर प्रोटेक्टिव लेयर की तरह काम करते हुए यूवी रेज के हार्मफुल इफ़ेक्ट को कम कर देता है। ऐसे में त्वचा पर समय से पहले डार्क स्पॉट और रिंकल्स जैसी समस्याएं नजर नहीं आती।

इस तरह त्वचा को दें पर्याप्त विटामिन ई

विटामिन ई से युक्त नट्स और सीड्स का सेवन करें, जैसे कि बादाम, हेज़लनट्स और सनफ्लावर सीड्स।

विटामिन ई को मिल्क या कोकोनट ऑयल के साथ मिलाकर त्वचा पर अप्लाई करें।

ग्रीन टी, शहद और विटामिन ई को एक साथ मिलाकर त्वचा पर अप्लाई करें। यह एजिंग साइंस को कम करता है।

यह भी पढ़ें : मम्मी की रसोई में मौजूद ये एक चीज़ है कई समस्याओं का उपचार, जानिए व्रत में देसी घी के फायदे

  • 146
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory