हेयरवॉश के बाद भी ऑयली और चिपचिपे लगते हैं बाल, तो इन 5 चीज़ों से बचना है जरूरी 

हार्मोनल उतार-चढ़ाव, तनाव या दवाओं के उपयोग से आपकी स्कैल्प पर तेल उत्पादन में वृद्धि हो सकती है। शॉवर के बाद तैलीय जड़ें सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस के कारण भी हो सकती हैं।

janiye aap kitni baar baal dho sakti hain
जानिए बाल धुलने के बाद भी उनके चिपचिपे रह जाने की ये 5 वजहें हैं. चित्र : शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Published on: 8 September 2022, 17:00 pm IST
  • 111

अक्सर, हम पाते हैं कि धोने के बाद भी बालों में चिकनाई रह जाती है। बालों को धोने के बाद भी ऐसा महसूस होता है कि तेल बालों में चिपका ही है। आपके बाल ऑयली लगने के कई कारण हो सकते हैं।

इस बारे में हमने बात की कोलकाता के सक्षम हेयर क्लीनिक के डॉक्टर अभिषेक बत्रा से। डॉक्टर बत्रा कहते हैं कि सिर पर तेल का स्राव 16 से 30 साल की उम्र के बीच  स्वाभाविक रूप से सबसे अधिक होता है, जिससे स्कैल्प पर चिकनाई पैदा होती है। इसके अलावा, हार्मोनल उतार-चढ़ाव, तनाव या दवाओं के उपयोग से तेल उत्पादन में वृद्धि हो सकती है। शॉवर के बाद तैलीय जड़ें सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस के कारण भी हो सकती हैं। इसके परिणामस्वरूप खुजली वाले रेड पैचेज़ और रूसी हो सकती हैं।” वह हेयरवॉश से जुड़ी सामान्य गलतियों पर चर्चा की जो कोई भी कर सकता है. जो शैम्पू के बाद बालों में पैदा चिकनाई में योगदान दे सकती है।

1 सही शैम्पू का उपयोग नहीं करना

डॉक्टर बत्रा के अनुसार जिनके बालों में पहले से चिकनाई है तो गहरी सफाई करने वाले शैम्पू की आवश्यकता होती है जो स्कैल्प से गंदगी और अतिरिक्त तेल को हटा सकता है। ऐसे लोगों को, सल्फेट या सैलिसिलिक एसिड वाले शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए।

2 अधिक कंडीशनिंग

अत्यधिक कंडीशनर का उपयोग करना, धोने के बाद बालों में चिकनाई छोड़ सकता है। अत्यधिक कंडीशनिंग प्रत्येक हेयर स्ट्रैंड पर हैवी कोट करता है, जिसके परिणामस्वरूप चिकनाई पैदा होती है और एक चिकना उपस्थिति होती है। अगर आपके बाल पतले और सीधे हैं, तो हल्के कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए।

3 आप जड़ों पर कंडीशनर का उपयोग कर रही हैं

अपने बालों की जड़ों में कंडीशनर लगाने से बचें, क्योंकि इससे तेल आपके बालों की जड़ों में रह जाएगा। यह आपके स्कैल्प को चिकना बना देगा।

oatmeal bath ke faydehane par mood durust rahta hai
गर्म पानी से नहाना आपके पालों को चिपचिपा बनाता है। चित्र:शटरस्टॉक

कंडीशनर को बालों में मिड-लेंथ से लेकर सिरे तक लगाना चाहिए। इसके अलावा, अपने बालों को अच्छी तरह से धोना सुनिश्चित करें, क्योंकि कंडीशनर के गलत इस्तेमाल से तेल पैदा हो सकता है।

4 प्रोडक्ट बिल्ड अप

हैवी क्रीम और वैक्स बेस्ड प्रोडक्ट्स का उपयोग करने से बचें क्योंकि वे आपके स्कैल्प से प्राकृतिक सीबम के उत्पादन को प्रभावित करता है, जिससे आपके बाल तैलीय हो सकते हैं।

5 गर्म पानी से नहाना

अगर आपको गर्म पानी से नहाना अच्छा लगता है, तो यह आपके बालों में चिकनाई का एक कारण हो सकता है। गर्म पानी स्कैल्प को डिहाइड्रेट कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप तेल उत्पादन में वृद्धि होती है और चिकनाई पैदा होती है। बालों को चिकना होने से बचाने के लिए उन्हें गुनगुने या ठंडे पानी से धोएं।
यह भी पढ़ें: टर्निंग 30? मिडल एज तनाव से मुक्त कर बरसों बरस खुश रहने में मदद करेंगे ये 11 नियम 

  • 111
लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
nextstory