फॉलो

परफेक्ट हेयर कंडीशनर है मेहंदी, बालों को शाइनी और बाउंसी लुक देने के लिए इस तरह करें इस्‍तेमाल

Published on:23 July 2020, 13:06pm IST
अपनी मेडिसिनल प्रोपर्टीज के कारण आयुर्वेद में मेहंदी को कई तरह से इस्तेमाल किया जाता रहा है, पर अगर आप अपने बालों को शाइनी और बाउंसी लुक देना चाहती हैं, तो हम आपको बता रहे हैं इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका।
योगिता यादव
  • 89 Likes
ये घरेलू नुस्‍खे बालों को नेचुरल शाइन और पोषण देते है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पसीने और डर्ट के कारण अगर आपके बालों में डलनेस और भारीपन आ गया है तो आपको इनकी स्पेशल केयर की जरूरत है। पर टेंशन न लें, हमें मालूम है कि लॉकडाउन में आपके लिए बाहर जाना सेफ नहीं है।

इस स्पेशल केयर के लिए आपको न तो हेयर स्पा की जरूरत है और न ही किसी महंगे सैलून में अपॉइंटमेंट लेने की। बल्कि हम आयुर्वेद के औषधीय भंडार से एक ऐसा खुशबू और रंगत भरा उपहार लेकर आए हैं, जो आपके बालों को बाउंस और नेचुरली शाइन देगा।

खुशबू और रंगत भरा वह खास उपहार है मेहंदी। जी हां, मेहंदी को उसकी मेडिसिनल प्रोपर्टीज के कारण आयुर्वेद में औषधीय हर्ब के तौर पर शामिल किया गया है। यह गर्मियों में शरीर में उत्पन्न होने वाली हीट को नेचुरली समाप्त करती है। इसलिए हमारी मम्‍मी बरसों से इसे अपने श्रृंगार में इस्तेमाल करती आ रहीं हैं।

आप भी उत्सवों और खास आयोजनों पर मेहंदी के आकर्षक डिजाइन तो जरूर लगवाती होंगी। पिछले दो दशक में तो विदेशों में भी टैटू आर्ट की ही तरह हिना आर्ट (Henna Art) भी खूब लोकप्रिय हुई है।

मेहंदी आयुर्वेदिक हेयर केयर उपाय है। चित्र: शटरस्‍टॉक

मेहंदी के औषधीय गुण

आप अभी तक मेहंदी को उसकी रंगत और खुशबू के तौर पर ही जानती होंगी। पर हम आपको बता दें कि मेहंदी में ग्लूकोज, टैनिन, मैलिक एसिड, वासोन, मैलिटोल और म्यूसिलेज जैसे तत्व पाए जाते हैं। जो आपकी स्कैल्प और त्वचा की हीट रिमूव कर उसे प्राकृतिक तौर पर पोषण देते हैं। अगर आपके बालों में ड्रायनेस या डैंड्रफ है, तो भी आपको मेहंदी को अपने हेयर केयर रूटीन में जरूर शामिल करना चाहिए। यह बालों के लिए परफेक्ट‍ कंडीशनर है।

बालों में मेहंदी लगाने के फायदे

कुछ खास मेडिसिनल प्रोपर्टीज के कारण मेहंदी बालों को प्राकृतिक रूप से काला, घना और लंबा बनाने में मदद करती है।

अगर आपको लग रहा है कि बालों का नेचुरल टेक्‍सचर खराब हो रहा है, तो आपको बालों में मेहंदी लगानी चाहिए, यह नेचुरल कंडीशनर है। जो बालों में फि‍र से नई जान ला देता है।

मेहंदी आपके बालों को नेचुरली शाइन देती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

गर्मी और बरसात के मौसम में अकसर बालों में पसीना आता है, जिससे स्कैल्प में एक्ट्रा ऑयल जमा हो जाता है। स्कैल्प में जमा यही एक्‍स्‍ट्रा ऑयल और डर्ट डैंड्रफ का कारण बनता है। जबकि मेहंदी स्कैल्प को कूल रखने के साथ ही वह एक्‍स्‍ट्रा ऑयल भी रिमूव करती है।

मेहंदी सदियों पुराना एंटी एजिंग उपाय है। अगर उम्र के साथ चांदी के तार आपके बालों में चमकने लगे हैं, तो इन्हें मेहंदी से ढंका जा सकता है। मेहंदी का रेगुलर इस्तेमाल करने से बालों के सफेद पड़ने की प्रक्रिया भी धीमी पड़ जाती है।

हेल्दी हेयर के लिए इस तरह अप्लाई करें बालों में हिना (Henna for hair)

अगर आपके बाल लंबे हैं तो आपको चार चम्मच मेहंदी (Mehandi) लेनी होगी, लेकिन अगर बाल छोटे हैं तो दो चम्मच हिना पाउडर आपके लिए काफी है। मेहंदी का बेहतर लाभ लेने के लिए जरूरी है कि उसे रात भर किसी लोहे की कड़ाही में भिगोया जाए। अगर इसे चाय के पानी में भिगोएंगी तो यह बालों को एक खास शाइनी शेड भी देगी।

लोहे के किसी बर्तन में चाय के उबले हुए पानी को ठंडा करके मेहंदी भिगोएं। रात भर भीगी मेहंदी को आपको सुबह इस्तेमाल करना है। इस्तेमाल करने से पहले ध्यान रहे कि बाल साफ होने चाहिए और उसमें ऑयलिंग न की गई हो।

मेहंदी का पेस्ट न ज्यादा गाढ़ा होना चाहिए और न ही ज्यादा पतला। अब सिर के सेंटर में क्राउन एरिया से मेहंदी लगाना शुरू करें। थोड़े-थोड़े बाल लेकर उस पर ब्रश से मेहंदी लगाती जाएं और एक जूड़े की शेप में बांधती जाएं।

इस तरह सिर पर यह एक टाइट बन तैयार हो जाएगा। इसे कम से कम 3-4 घंटे जरूर रखें। या फि‍र जब तक यह पूरी तरह सूख न जाए। आपको खुद अहसास होगा कि मेहंदी लगाने से आपको ठंडक महसूस हो रही है।

हर लड़की का यह सपना होता है कि उसके बाल बाउंसी और शाइनी हों। चित्र: शटरस्टॉंक

अगर आपको लगातार सिर दर्द या तनाव रहता है, तो उसमें भी मेहंदी लगाने से आपको आराम मिल सकता है।

जब मेहंदी सूख जाए तो बालों को सादे पानी से धोएं। हो सकता है कि मेहंदी लगाने के बाद आपको बालों में मेहंदी के कण फंसे हुए महसूस हों। इसके लिए आप मोटी कंघी से बाल साफ कर सकती हैं। पर शैंपू करने के लिए आपको कम से कम एक दिन इंतजार करना चाहिए।

यह भी ध्यान रहे

  1. मेहंदी में नींबू न मिलाएं, यह आपके बालों को रूखा बना सकता है।
  2. अगर बाल बहुत ज्यादा ड्राय हैं, तो उसमें दही मिला सकती हैं।
  3. अंडा एक और बेहतरीन हेयर कंडीशनर है, पर इसे मेहंदी में न मिलाएं। मेहंदी और अंडा दोनों में मौजूद प्रोटीन एक साथ बालों पर लगाना नुकसानदायक हो सकता है।

तो गर्ल्स आज हमने आयुर्वेद के खजाने से यह खास उपहार आपके लिए पेश किया है। दो महीने में कम से कम एक बार मेहंदी जरूर लगाएं और फि‍र देखें बालों में इसका कमाल।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।

संबंधि‍त सामग्री