फॉलो
वैलनेस
स्टोर

आंवला-रीठा-शिकाकाई : हम बता रहे हैं सदियों से चले आ रहे इस सुपर इफेक्टिव नुस्‍खे के इस्‍तेमाल का सही तरीका

Updated on: 10 September 2020, 19:36pm IST
चमकदार, लम्बे, घने और खूबसूरत बाल किसे अच्छे नही लगते। यूं तो कितने नए प्रोडक्ट बाजार में मौजूद हैं, जो बालों को स्वस्थ बनाने का दावा करते हैं, लेकिन आंवला, रीठा और शिकाकाई जितना असरदार कुछ नहीं है।
विदुषी शुक्‍ला
बालों की सेहत के लिए शिकाकाई से बेहतर कुछ नहीं है। चित्र- शटरस्टॉक।

आपने दादी-नानी से आंवला, रीठा और शिकाकाई के गुण तो जरूर सुन रखें होंगे। उन गुणों का साक्षात प्रमाण थे उनके घने बाल, जो कई बार तो सफेद होने के बाद भी हमारे बालों से ज्यादा घने होते थे।

अब हमारे आहार में पोषण की कमी होती है और केमिकल युक्त प्रोडक्ट हमारे बालों को बर्बाद कर देते हैं। हम आपको बताते हैं आंवला, रीठा और शिकाकाई के फायदे और इसके इस्तेमाल का तरीका।

आंवला (amla) –

रूखे बेजान बालों के लिए वरदान है आंवला। आंवला में भरपूर मात्रा में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो बालों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह डैमेज हो चुके बालों की मरम्मत करता है और फ्री रेडिकल्स को खत्म करते हैं।

आंवला है विटामिन सी का भंडार। चित्र- शटर स्टॉक।

आंवला बालों को लम्बे समय तक काला रखने में भी सहायक होता है। बालों का झड़ना, सफेद होना और गंजापन सभी समस्याओं का इलाज है आंवला।

रीठा (reetha) –

जब शैम्पू नहीं हुआ करते थे, रीठा को बालों की सफाई के लिए इस्तेमाल किया जाता था। देखा जाय तो यह आपके बालों के स्वास्थ्य के लिए शैम्पू से ज्यादा बेहतर है।
रीठा को सोपनट भी कहा जाता है। रीठा एंटीऑक्सीडेंट का भंडार है, जो बालों को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाते हैं।

ज्यादा शैम्पू भी हो सकता है दो मुंहे बालों का कारण।चित्र- शटर स्टॉक।

जर्नल ऑफ इन्वेस्टिगेटिव डर्मेटोलॉजी में प्रकाशित लेख के अनुसार रीठा एक बेहतरीन क्लीनिंग एजेंट होता है जो बालों में किसी प्रकार का संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया, फंगस को खत्म करता है। स्वस्थ स्कैल्प के लिए रीठा बहुत आवश्यक है।

शिकाकाई (shikakayi) –

शिकाकाई बालों की कंडीशनिंग का काम करता है। यह बालों को मॉइस्चराइज करता है और ड्राई बालों की मरम्मत करता है। शिकाकाई में भरपूर मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है, जो बालों के लिए हेल्दी होता है। इसके अलावा शिकाकाई बालों का ph लेवल नियंत्रित करता है, जिससे बालों का प्रकृतिक ऑयल सुरक्षित रहता है।

इससे बाल ड्राई नहीं होते और उनमें चमक आती है। इससे बाल मुलायम बन रहते हैं।

कैसे एक साथ करना है इनका इस्तेमाल

आंवला-रीठा-शिकाकाई एक साथ मिलकर बालों के लिए चमत्कारी होते हैं। यह बालों को चमकदार और स्वस्थ बनाते हैं। यह तीनों मिलकर बालों की अनेक समस्या जैसे दोमुंहे सिरों, झड़ते बाल, सफेद बाल और डैन्ड्रफ से सुरक्षित रखते हैं।

आप शैम्पू के रूप में इसका प्रयोग कर सकती हैं। इसके लिए आपको 5 से 6 रीठा, 5 से 6 शिकाकाई और 3 से 4 आंवला रात भर पानी में भिगोकर रखने हैं। सुबह इस पानी सहित सामग्री को उबालें और एक उबाल आने पर ही गैस बंद कर दें। ठंडा होने के बाद इस मिश्रण को पीस लें। यह पेस्ट शैम्पू का काम करेगा। इससे बाल धोने पर आपको अपने बाल ज्यादा साफ और चमकदार नजर आएंगे।

आंवला, रीठा और शिकाकाई बालों को मजबूत बनाने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। चित्र: शटर स्‍टॉक

इसका यह अर्थ नहीं कि आप अपना शैम्पू इस्तेमाल करना बंद कर दें। अगर हफ्ते में दो या तीन बार बाल धोती हैं तो एक बार आंवला-रीठा-शिकाकाई से धोएं और अन्य बार शैम्पू का इस्तेमाल करें।

बाजार में तीनों का मिश्रित पाउडर भी उपलब्ध है, जिसे आप हेयर मास्क की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं। इस मास्क के लिए आपको आंवला, रीठा, शिकाकाई के पाउडर में गुलाबजल मिलाना है। आपके पेस्ट की कंसिस्टेंसी गुलाबजल से ही आएगी। इसमे एक चम्मच नारियल या बादाम का तेल मिलाएं। डैन्ड्रफ से परेशान हैं, तो इस मिश्रण में कपूर का पाउडर भी मिलायें।

इस तरह आप अपने बालों को सदियों से चले आ रहे हेयर केयर इंग्रेडिएंट के फायदे पहुंचा सकती हैं। हफ्ते में कम से कम एक बार इसका इस्तेमाल जरूर करें। आपको एक महीने में ही अपने बालों में महत्वपूर्ण बदलाव दिखेगा।

तो लेडीज, किस बात का इंतजार है, इस खास प्रोडक्ट का लाभ उठाएं और पाएं लम्बे,काले,घने बाल।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।