और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

आपकी स्किन, बालों और सेहत संबंधी समस्याओं का समाधान है घृतकुमारी, जानिए कैसे करना है इस्तेमाल

Updated on: 26 November 2021, 09:42am IST
पेट पर लटकती चर्बी से लेकर चेहरे पर नजर आने वाली झुर्रियों तक, आपकी जो भी समस्या है, घृतकुमारी (Ghritkumari) है उसका समाधान।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 125 Likes
aloe vera aka ghritkumari women ke liye bahut faydemand hai
यहां हैं घृतकुमारी यानी एलोवेरा के 5 लाभ। चित्र ; शटरस्टॉक

एलोवेरा (Aloe vera) का आयुर्वेद में घृतकुमारी (Ghritkumari) के नाम से उल्लेख किया गया है। यानी एक ऐसा पौधा, जो आपको एजिंग (Aging) से बचाकर चिरयौवना (Young) बनाए रखता है। फिर चाहें इसके लिए बाउंसी बाल (Bouncy Hair) पाने हों, त्वचा को झुर्रियों से बचाना हो या बढ़ते वजन को रोकना हो। आइए जानते हैं कैसे आपको तमाम समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करता है एलोवेरा।

एलोवेरा और एजिंग

हम सभी जानते हैं कि एलोवेरा कितना फायदेमंद है। मगर क्या आप जानती हैं कि यह आपकी ब्यूटी को बरकरार रखने और सभी समस्याओं का इलाज है? जानिए यह आपके लिए कैसे फायदेमंद है।

एलोवेरा के फ़ायदों के बारे में हम सभी जानते हैं। यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें विटामिन B, C, E और फोलिक एसिड जैसे महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज होते हैं। जो आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं।

aloevera ke fayde
आपकी त्‍वचा के लिए एलोवेरा से बेहतर कुछ नहीं। चित्र: शटरस्‍टॉक

मगर क्या आप जानती हैं कि एलोवेरा आपके सौंदर्य में चार चांद लगा सकता है? जी हां, लेडीज यह वज़न घटाने से लेकर बालों की सभी समस्याओं में फायदेमंद है। इतना ही नहीं, यह आपको एजिंग से भी बचाता है।

तो चलिये जानते हैं इसके 5 फायदे

1. बालों का झड़ना रोकता है एलोवेरा

एलोवेरा में प्रोटियोलिटिक नामक एंजाइम होता है, जो स्कैल्प पर मृत त्वचा कोशिकाओं की मरम्मत करता है। यह एक बेहतरीन कंडीशनर के रूप में भी काम करता है और आपके बालों को चिकना और चमकदार बनाता है। यह बालों के विकास को बढ़ावा देता है, स्कैल्प पर खुजली को रोकता है, रूसी को कम करता है और आपके बालों को कंडीशन करता है।

कैसे करें इसका इस्तेमाल – एलोवेरा जूस और एक्स्ट्रा वर्जिन कोकोनट ऑयल को बराबर मात्रा में मिलाएं। मजबूत, चिकने और बाउंसी बालों के लिए इसे लंबे समय तक लगाएं और छोड़ दें।

2. झुर्रियों को कम करता है

अध्ययन के अनुसार, त्वचा पर एलोवेरा जेल लगाने से झुर्रियों और कोलेजन उत्पादन पर प्रभाव पड़ सकता है। एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन यूवी किरणों के प्रभाव को कम करने में मदद करते हैं। एलोवेरा विटामिन C, E और बीटा कैरोटीन से भरपूर होता है, जो पौष्टिक और एंटी-एजिंग गुण देता है।

कैसे करें इस्तेमाल – एक एलोवेरा की डंडी को तोड़ लें और इसका गूदा निकालकर इसे सीधा अपने चेहरे पर लगाएं। ऐसा हर रोज़ करें, आपकी झुर्रियों में फर्क नज़र आने लगेगा।

aloevera ke fayde
जानिए क्या है इन एजिंग साइन्स का समाधान। चित्र : शटरस्टॉक

3. साफ और दमकती त्वचा के लिए

2009 में 45 वर्ष से अधिक उम्र की 30 महिलाओं के अध्ययन में, एलोवेरा जेल लेने से कोलेजन उत्पादन में वृद्धि हुई और 90 दिनों की अवधि में त्वचा की लोच में सुधार हुआ। समीक्षा यह भी बताती हैं कि एलोवेरा त्वचा को नमी बनाए रखने और त्वचा की लोच में सुधार करने में मदद कर सकता है, जिससे शुष्क त्वचा की स्थिति में लाभ हो सकता है।

4. वज़न घटाने के लिए एलोवेरा

एलोवेरा आपके आहार की प्रभावशीलता में सुधार कर सकता है और आपके वजन घटाने की क्षमता को बढ़ा सकता है। इसमें विटामिन और खनिज हैं, जो वज़न घटाने में मदद कर सकते हैं। अमीनो एसिड, एंजाइम से समृद्ध, एलोवेरा के अवशोषण और उपयोग में भी सुधार करता है, जिससे समग्र स्वास्थ्य में सुधार होता है।

इस तरह करें सेवन – एलोवेरा का प्राकृतिक स्वाद इतना कड़वा होता है कि आप इसे ऐसे ही खाने के बारे में सोच भी नहीं सकते। इसका जेल लें, इसे छोटे टुकड़ों में काट लें और ब्लेंड करें। इसे किसी अन्य फल या सब्जी के रस के साथ थोड़ा सा मिलाएं जो मीठा हो। अगर आपको यह ज्यादा कड़वा लगता है तो इसमें शहद मिलाकर पिएं। आप इस मिश्रण में थोड़ा सा नींबू भी मिला सकती हैं।

aloevera ke fayde
एलोवेरा जूस एसिड रिफ्लक्स से आज़ादी दिला सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. शरीर को हाइड्रेट करता है

एलोवेरा शरीर को पर्याप्त नमी बनाए में रखने में मदद करता है। जिससे लिवर और किडनी में होने वाली डिटॉक्सिफिकेशन प्रक्रियाओं को सुचारू रूप से चलाने में मदद मिलती है।

व्यायाम के बाद री-हाइड्रेशन की आवश्यकता होती है। व्यायाम करने से लैक्टिक एसिड बिल्डअप को फ्लश करने के लिए आपके शरीर को अधिक तरल पदार्थों की आवश्यकता होती है। इसलिए एक्सरसाइज के बाद एलोवेरा जूस का सेवन करें।

यह भी पढ़ें : सभी के लिए फायदेमंद नहीं है तांबे के बर्तन में पानी पीना, हम बताते हैं कैसे

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।