फॉलो
वैलनेस
स्टोर

सर्दियों में बालों को परेशान कर रहा है डैन्ड्रफ? इन घरेलू नुस्खों से पाएं डैंड्रफ से छुटकारा

Updated on: 10 December 2020, 10:51am IST
अगर आपकी स्कैल्प में अक्सर डैन्ड्रफ रहता है, तो इसे हल्के में न लें। डैन्ड्रफ का इलाज किया जाना आवश्यक है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 70 Likes
यूकेलिप्टस तेल डैंड्रफ में भी कारगर है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इससे ज्यादा शर्मिंदगी की बात क्या होगी कि आप तैयार होकर किसी पार्टी में जाएं और हर कोई आपकी ड्रेस की तारीफ करने के बजाय आपके कंधों पर सफेद डैंड्रफ को नोटिस करें। समस्या सिर्फ यही नहीं है कि डैन्ड्रफ आपका लुक खराब कर सकता है। डैन्ड्रफ आपके स्वास्थ्य के लिए भी बहुत खतरनाक है।

अगर आप नहीं जानती हैं तो हम बता दें डैन्ड्रफ एक फंगल इंफेक्शन होता है। जी हां, यह फंगस मेलासेज़िया के कारण होता है जो हमारे स्कैल्प में बनने वाले सीबम को खाती है। स्कैल्प में भी बाकी त्वचा की तरह ही सीबम बनाने वाले ग्लैंड्स होते हैं जिन्हें सेबेशियस ग्लैंड्स कहते हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

फंगस के लिए सीबम अनुकूल वातावरण बनाता है जिसके कारण यह बढ़ता चला जाता है। यही कारण है कि डैन्ड्रफ होने पर स्कैल्प में खुजली होती है। सफेद झड़ने वाले फ्लेक्स हमारी ड्राई स्कैल्प होती है जिसके लिए भी यह मेलासेज़िया फंगस ही जिम्मेदार है।

सर्दियों में स्कैल्प अधिक ड्राई होती है जिसके कारण सर्दियों में डैन्ड्रफ भी बढ़ जाता है।
ज्यादा समय तक अगर आप इस फंगल इन्फेक्शन को नजरअंदाज करेंगे तो यह गंभीर रूप ले सकता है। डैन्ड्रफ कितना हल्का या कितना गंभीर होगा यह आपकी स्किन टाइप पर निर्भर करता है। डैंड्रफ के लिए मेडिकेटेड शैम्पू, तेल और ओवर द काउंटर दवाइयां उपलब्ध हैं। लेकिन आप डैन्ड्रफ को घरेलू नुस्खों से भी खत्म कर सकती हैं।

बालों को हमेशा माइल्‍ड शैंपू से ही धोएं। चित्र- शटरस्टॉक।

घरेलू नुस्खों में सबसे अच्छी बात यह है कि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता। आप आसानी से इसे घर पर इस्तेमाल कर सकती हैं।

1. एप्पल साइडर सिरका

जैसा कि आप जान चुकी हैं कि डैन्ड्रफ एक फंगल इन्फेक्शन है। एप्पल साइडर विनेगर में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी फंगल प्रॉपर्टीज होती हैं जो फंगस को खत्म करने में कारगर है। जर्नल फ्रंटियर ऑफ डर्मेटोलॉजी में प्रकाशित शोध में भी एप्पल साइडर सिरके को डैन्ड्रफ का कारगर उपाय माना गया है।
बाल धोने से पहले बराबर मात्रा में विनेगर और पानी मिलाकर बालों में लगाएं। आधे घंटे इसे लगा रहने दें और फिर बाल धो लें। याद रखें कि परिणाम दिखने में तीन से चार इस्तेमाल का समय लगेगा।

ये भी पढ़ें- जानिए क्‍या होता है, जब आप सर्दियों में गर्म पानी से धोती हैं बाल, क्‍या बालों के लिए सुरक्षित है गर्म पानी?

2. दही

दही में एसिडिक प्रॉपर्टी होती हैं जो इसे अच्छा एन्टी फंगल इंग्रेडिएंट बनाती हैं। यानी दही भी मेलासेज़िया फंगस को खत्म कर सकता है। इसके साथ ही दही में लैक्टिक एसिड, विटामिन बी12 और कैल्शियम भी होता है जो बालो को स्वस्थ बनाता है। दही के साथ आप एक से दो चम्मच शहद भी मिला सकती हैं। यह आपके बालों को मॉइस्चराइज कर के उन्हें चमक देगा।

ये भी पढ़ें- कर्ली बाल संभालने मुश्किल हो रहे हैं? इन टिप्स से डालिये अपने कर्ल्स में नई जान

3. बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा हमारे किचन का ऐसा इंग्रेडिएंट्स है जो हमारी हर समस्या के लिए फायदेमंद है। त्वचा और बालों की लगभग हर समस्या का इलाज है बेकिंग सोडा। और ऐसा इसलिए क्योंकि बेकिंग सोडा में एंटीबायोटिक, एंटी माइक्रोबियल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती हैं।

बेकिंग सोडा आपकी स्‍कैल्‍प के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक
बेकिंग सोडा आपकी स्‍कैल्‍प के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

बेकिंग सोडा फंगस को खत्म करने के साथ साथ स्कैल्प को एक्सफोलिएट भी करता है जिससे सफेद फ्लेक्स नहीं गिरते हैं। यह स्कैल्प के पोर्स को खोलता है और गहरी सफाई करता है। बेकिंग सोडा का असर आपको पहले वॉश से ही देखने को मिलेगा।
शैम्पू करते वक्त हाथों पर एक चम्मच बेकिंग सोडा डालें और उससे स्कैल्प की मसाज करें। शैंपू के साथ ही इसे धो दें।

4. टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल में भी एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो स्कैल्प से फंगस को खत्म करते हैं और आपको डैंड्रफ से राहत देते हैं। आप टी ट्री एसेंशियल ऑयल को अपने तेल में मिलाकर धोने से एक घंटे पहले बालों में लगाएं।

तो लेडीज, अपने डैन्ड्रफ का तुरंत इलाज करें इन घरेलू तरीकों से। अगर एक महीने बाद भी आपको कोई फायदा ना हो तो डर्मेटोलॉजिस्ट के पास जाना ही सही उपाय है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।