3 लक्षण बताते हैं कि आपको है स्कैल्प पर ध्यान देने की जरूरत, जानिए स्कैल्प केयर के लिए जरूरी टिप्स

बालों का लंबा और शाइनी होना ही जरूरी नहीं है, बल्कि आपको उनकी सेहत पर भी ध्यान देना है। बाहरी प्रोडक्ट बालों को सुंदर दिखा सकते हैं, लेकिन ऑयली और गंदी स्कैल्प बालों को जड़ों से कमजोर कर सकती है।
scalp mei khujli ke karan
बालों को बढ़ाने के लिए सबसे पहले शुरूआत अपनी स्कैल्प के देखें। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Updated: 5 Oct 2023, 06:06 pm IST
  • 145

बालों के स्वस्थ रखना और उन्हें बढ़ाने के लिए काफी कठिनाईयां हो सकती है। कई बार हम कंफ्यूज रहते है कि इसकी शुरूआत कहां से करें। क्या आपको सीरम से शुरुआत करनी चाहिए? सप्लीमेंट से? सिर की मालिश से? या उपचार? ये कई सवाल है जो सभी के मन में आते है। लेकिन ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपके बाल किन कारणों से झड़ रहें है। इसमें सबसे पहला कारण होता है स्कैल्प को स्वस्थ रखना। चलिए जानते है आप अपने स्कैल्प को कैसे स्वस्थ रख सकते है।

आपको अपने स्कैल्प के स्वास्थ्य पर नजर क्यों रखनी चाहिए

बालों को बढ़ाने के लिए सबसे पहले शुरूआत अपनी स्कैल्प के देखें। अपने बालों को अलग-अलग हटाकर अपने सिर की सताह को देखें की उसमें क्या चल रहा है। अगर आप अपने स्कैल्प को नियमित तौर पर नहींं देखते है तो आप किसी भी समस्या को बदतर होने से नहीं रोक सकते है। शिशे में अपने स्कैल्प को देखें और इस पर नजर रखें।

hair scrub
अपने बालों को बढ़ने के लिए एक स्वस्थ और खुशहाल वातावरण प्रदान करें। चित्र: शटरस्टॉक

स्कैल्प पर पपड़ी नजर आना – यदि आप अपने सिर की त्वचा पर देखें, तो आपको शायद लगे कि यह रूसी है। सिर की त्वचा पर पपड़ियों को किसी चीज़ का संकेत समझें, लेकिन यह मत सोचिए कि यह मृत त्वचा है। उदाहरण के लिए, यह किसी प्रोडक्ट के कारण भी हो सकता है, जिसके लिए हल्के स्कैल्प एक्सफोलिएशन या प्रोडक्ट को बदलने की भी जरूरत हो सकती है।

स्कैल्प में रेडनेस दिखना – यदि आपकी स्कैल्प लाल है, खुजली है, या सूजन है, तो यह एक संकेत है कि आपकी स्कैल्प पर स्किन बैरियर बाधित हो गई है। ऐसा कई कारणों से होता है, किसी प्रोडक्ट से लेकर धूप के संपर्क में आने से लेकर ब्रश तक सो हो सकती है।

रूट्स का ऑयली होना – आपके बाल धोने के कुछ घंटों या एक दिन के अंदर ऑयली नहीं होने चाहिए। यदि ऐसा होता है, तो हो सकता है कि आप अपने स्कैल्प और जड़ों पर कुछ प्रोडक्ट जमा होने की समस्या से जूझ रहे हों।

आपके बालों की स्कैल्प सही दिख रही हो लेकिन फिर भी ये जरूरी है कि आप अपने बालों को बढ़ने के लिए एक स्वस्थ और खुशहाल वातावरण प्रदान करें। आपको अपनी स्कैल्प की केयर करना केवल इसलिए बंद नही करनी चाहिए, क्योंकि वे स्वस्थ दिखती है।

स्कैल्प केयर के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स (tips for scalp care)

1 सिर को नियमित धोना

अपने सिर की त्वचा को साफ रखना जरूरी है। हल्के, सल्फेट-मुक्त शैम्पू और कंडीशनर का उपयोग करें जो आपके बालों के प्रकार का हो। आप अपने बालों को कितनी बार धोते हैं यह आपके बालों के प्रकार और जीवनशैली पर निर्भर करता है, लेकिन आम तौर पर, हर 2-3 दिन में एक बार धोना एक अच्छा शुरुआती बिंदु है।

2 एक अच्छी तकनीक

अपने बाल धोते समय, अपनी उंगलियों से अपने सिर की धीरे-धीरे मालिश करने पर ध्यान दें। अपने नाखूनों का उपयोग करने से बचें, क्योंकि इससे स्कैल्प को नुकसान हो सकता है। सभी प्रोडक्ट को हटाने के लिए अपने बालों को अच्छी तरह से धोना सुनिश्चित करें।

3 स्कैल्प मसाज का उपयोग करें

नियमित रूप से अपने स्कैल्प की मालिश करने से रक्त परिसंचरण को बढ़ाने और बालों को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। हर दिन कुछ मिनटों के लिए अपने सिर की मालिश करते समय अपनी उंगलियों का उपयोग करके हल्का दबाव डालें।

scalp mei khujli hona
पसीना, गंदगी और अतिरिक्त तेल हटाने के लिए अपने बालों को हल्के, सल्फेट-मुक्त शैम्पू से नियमित रूप से धोएं। चित्र- अडोबी स्टॉक

4 गर्म पानी से बचें

गर्म पानी सिर की त्वचा से प्राकृतिक तेल छीन सकता है, जिससे यह शुष्क और संभावित रूप से इरिटेशन हो सकती है। इसके बजाय बाल धोने और साफ करने के लिए गुनगुने पानी का उपयोग करें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

5 हीट स्टाइलिंग को सीमित करें

हेयर ड्रायर, स्ट्रेटनर और कर्लिंग आयरन से निकलने वाली अत्यधिक हिट आपके बालों और स्कैल्प दोनों को नुकसान पहुंचा सकती है। हीट स्टाइलिंग टूल्स का कम से कम उपयोग करें और उपयोग से पहले हमेशा हीट प्रोटेक्टेंट स्प्रे लगाएं।

ये भी पढ़े- Green Tea : डार्क सर्कल हटाने से लेकर स्किन को सॉफ्ट बनाने तक, यहां जानिए ग्रीन टी इस्तेमाल करने का तरीका और फायदे

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख