क्या सच में शेविंग करने से स्किन पड़ जाती है काली? चलिए जानें क्या है सच्चाई

Updated on: 6 August 2022, 14:11 pm IST

कभी अंडरआर्म्स तो कभी प्यूबिक एरिया, आप बहुत बार अपने लिए शेविंग करना चुनती हैं। पर क्या इसके आसपास फैली भ्रामक अवधारणाएं आपको ऐसा करने से रोक रहीं हैं?

जानिए क्या है शेविंग मिथ्स का सच, चित्र: शटरस्टॉक

 

चेहरे या शरीर के बालों को हटाने के लिए बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं, लेकिन अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के लिए शेविंग सबसे सुविधाजनक, सस्ता, आसान और दर्द रहित तरीका माना जाता है। और स्वाभाविक रूप से, बहुत सी महिलाएं इसे चुनती हैं। फिर भी, कुछ महिलाएं शेविंग करने से बचती हैं।

हालांकि शेविंग बालों को हटाने का सबसे तेज़, आसान और कन्विनिएंट तरीका है, ना वैक्स स्ट्रिप्स का झंझट न पार्लर जाने की चिकचिक और बस इसीलिए  कई महिलाएं इसे खासतौर पर पसंद करती हैं, लेकिन सामान्य तौर पर महिलाओं का मानना ​​है कि शेविंग करने से त्वचा का रंग काला (truth of shaving myth) हो जाता है। क्या यह सच है या सिर्फ एक अर्थहीन मिथक भर है? इस पोस्ट में, हम इस सवाल के पीछे की सच्चाई को जानेंगे, “क्या शेविंग करने से त्वचा का रंग काला (shaving darkens skin) हो जाता है?”

तो आइए इसके बारे में ज़्यादा जानें ताकि आप बालों को हटाने के लिए शेविंग (shaving) का सुरक्षित रूप से उपयोग कर सकें।

क्या शेविंग से हाइपर-पिग्मेंटेशन हो सकता है?

हेयर रिमूवर के तौर पर शेविंग करने से हाइपरपिग्मेंटेशन नहीं होता है। यह एक क्षेत्र में बार-बार बालों को हटाने की आक्रामक प्रकृति के कारण होता है। तब त्वचा का रंग गहरा हो सकता है। दूसरे शब्दों में, आपकी त्वचा के खिलाफ रेज़र ब्लेड को लगातार रगड़ने और त्वचा को खुरचने से जलन हो सकती है। जब जलन की जगह पर शेविंग की प्रक्रिया दोहराई जाती है, तो यह आपकी त्वचा को काला कर सकती है।

अपनी त्वचा के कालेपन से बचने के लिए आप क्या कर सकते हैं?

इन नियमों का पालन करके सुरक्षित शेविंग :

  1. शेविंग करने से पहले गर्म पानी से नहाएं। यह आपकी त्वचा को आराम देगा और ढीला करेगा और शेविंग के दौरान जलन या रेजर के जलने की संभावना को कम करेगा।
  2. शेविंग से ठीक पहले अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करें ताकि मृत कोशिकाओं को हटाया जा सके और शेविंग के लिए आपको एक साफ सतह दी जा सके।
  3. कट और जलन को रोकने के लिए शेविंग से पहले हमेशा शेविंग क्रीम या मॉइस्चराइजर की एक मोटी परत लगाएं।
  4. कम से कम जलन के लिए बालों के बढ़ने की दिशा में शेव करें।
  5. साथ ही शेव करने के बाद अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज़ करना न भूलें।
  6. सुनिश्चित करें कि आप शेविंग के बाद अल्कोहल की मात्रा वाली किसी भी चीज़ का उपयोग नहीं करते हैं जैसे लोशन परफ्यूम या अन्य उत्पाद जिनमें अल्कोहल होता है।
  7. एक ही दिन में बार-बार शेव न करें।
  8. रेज़र को साफ और सूखी जगह पर रखें ताकि फंगस बनने या संक्रमण होने की संभावना कम हो सके। 

    रेज़र का ध्यान से करें इस्तेमाल। चित्र : शटरस्टॉक

क्या शेविंग करने से आपके बाल वापस घने हो जाते हैं?

पश्चिमी दुनिया में अनचाहे बालों को हटाने के लिए शेविंग सबसे पसंदीदा तरीका है। दुर्भाग्य से, शेविंग कई आम मिथकों और भ्रांतियों से जुड़ी हुई है जैसे कि यह मिथक।

डॉ सेजल सहेता, डर्मेटोलॉजिस्ट और वेनेरोलॉजिस्ट – इनउरस्कन के अनुसार, “हमारी त्वचा का रंग मेलेनिन नामक कॉम्पोनेन्ट द्वारा निर्धारित किया जाता है और यकीन मानिए यह शेविंग से प्रभावित नहीं हो सकता है, लेकिन आक्रामक शेविंग या कम गुणवत्ता वाले रेज़र त्वचा की रंगत कम होने का कारण बन सकते हैं। खराब गुणवत्ता वाले रेज़र आपकी त्वचा पर बुरी तरह से हार्श हो सकते हैं और परेशान कर सकते हैं, जो एक पोस्ट-इन्फ्लेमेटरी प्रतिक्रिया को ट्रिगर कर सकता है, यह आपकी त्वचा को काला कर सकता है। कट और और रैशेज़ भी हाइपरपिग्मेंटेशन और त्वचा की टोन को काला करने का कारण बन सकते हैं।

आपके बालों की संरचना आपके शरीर विज्ञान और आपके आनुवंशिकी द्वारा निर्धारित की जाती है। शेविंग या किसी अन्य बाहरी तंत्र द्वारा इसे मौलिक रूप से बदलने के लिए बिल्कुल कुछ भी नहीं किया जा सकता है।” शेविंग बालों को तेजी से वापस बढ़ने में मदद नहीं करता और यह मिथक है। शेविंग, बालों का आना नहीं, बालों की ग्रोथ, मोटाई और रंग को नियंत्रित करती है।

क्या वैक्सिंग शेविंग से बेहतर है ?

महिलाओं को हमेशा अपने चेहरे और शरीर के अंगों को शेव करने से बचने के लिए कहा गया है क्योंकि यह एक आम धारणा है कि शेविंग से कट और संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। यह भी माना जाता है कि यह रेडनेस और पिगमेंटेशन का करण बनता है और बालों को वैक्सिंग, थ्रेडिंग और बालों को हटाने के अन्य रूपों की तुलना में गहरा और मोटा बनाता है। 

“शेविंग बिल्कुल आपकी त्वचा या बालों की ग्रोथ या स्किन कलर को किसी भी तरह से नहीं बदलता है। वास्तव में, यह आपके शरीर पर अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के सबसे सुरक्षित तरीकों में से एक है, जो वैक्सिंग या रासायनिक डिपिलिटरी के उपयोग की तुलना में है, ”डॉ सहेता कहती हैं। सही तकनीक का पालन करें, अन्यथा आपको चेहरे की शेविंग रैशेज़ को छिपाने में मुश्किल होगी। 

अगर आप सही तरीके से इसका इस्तेमाल हैं, तो शेविंग से खुजली और रैशेज हो सकते हैं, जिससे त्वचा का रंग काला हो जाता है और बाल घने हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें: ब्लड प्रेशर अचानक लो हो गया है, तो पिएं एक गिलास मीठा ठंडा दूध, जानिए ये कैसे काम करता है

शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें