World Bamboo Day : बांस को खोखला न समझें, त्वचा के लिए है ये गुणों का भंडार 

बैंबू यानी बांस स्किन का सुपरहीरो है। यदि किसी भी प्राकृतिक उपाय से स्किन की समस्याएं दूर नहीं हो रही हैं, तो बैंबू पाउडर इस्तेमाल कर देखें। यह एंटी एजिंग एजेंट पिंपल्स, एक्ने को भी दूर कर देता है।
bamboo powder skin ke liyee
बैंबू पाउडर एक्ने पिंपल्स को दूर करता है और यह स्किन को एक्सफोलिएट भी करता है। चित्र: शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published: 17 Sep 2022, 02:00 pm IST
  • 125

धूल-मिट्टी और पसीने के कारण हमारी स्किन पर गंदगी जमने लगती है। इससे एक्ने, पिंपल्स, ब्रेकआउट जैसे कई समस्याएं होने लगती हैं। ये समस्याएं न सिर्फ हमारी स्किन को खराब कर देती हैं, बल्कि इससे बने दाग-धब्बे दिखने में भी बुरे लगते हैं। शरीर के साथ-साथ स्किन को स्वस्थ रखना बेहद जरूरी है। मां कहती है कि यदि सभी घरेलू उपाय आजमाने पर भी कोई फायदा नहीं हो रहा है, तो बैंबू पाउडर यानी बांस के चूर्ण को चेहरे पर लगा कर देखो। स्किन के लिए यह सुपरहीरो जैसा काम करता है। क्योंकि इसके पास स्किन की हर समस्या का इलाज है। आयुर्वेद में भी बांस के फायदों (Bamboo benefits for skin) को गिनाया गया है। इसका प्रयोग कई एशियाई देशों में किया जाता रहा है।

विश्व बांस दिवस  (World Bamboo Day 18 SEPTEMBER) 

बांस के फायदों को देखते हुए हर वर्ष विश्व बैंबू दिवस 18 सितंबर को मनाया जाने लगा है। इस दिवस का यही उद्​देश्य है कि विश्व भर के लोग इस सबसे उपेक्षित प्राकृतिक उपहार की ओर आकर्षित हों। बांस से कई तरह की उपयोगी चीजें बनाने और इस्तेमाल करने पर भी आजकल जोर दिया जा रहा है। पर शायद आप नहीं जानती कि बांस का पाउडर आपकी त्वचा के लिए भी एक प्रभावी उपाय हो सकता है। 

क्या है बांस में त्वचा के लिए ऐसा खास 

आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ. नीतू भट्ट बताती हैं, ‘बांस (वैज्ञानिक नाम Bambusoideae) का पौधा बहुत कोमल होता है। बांस के तने, जड़, कलियां व कोपल भी काम में लाये जाते हैं। आयुर्वेद में इनसे कई तरह के रोगों का उपचार किया जाता है।

बांस में फेनोलिक कंपाउंड मौजूद होता है। इसलिए यह एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल गुण वाला माना जाता है। बांस सिलिका से समृद्ध होता है। सिलिका एक ट्रेस मिनरल है, जो स्वस्थ त्वचा, बालों और नाखूनों के लिए आवश्यक होता है।’ बांस में पोटैशियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम, विटामिन ए, विटामिन ई, विटामिन बी 6, कॉपर, प्रोटीन आदि जैसे न्यूट्रीएंट्स पाए जाते हैं। बांस के कांपलों में एंटी एजिंग गुण पाया जाता है।

यहां जानिए त्वचा के लिए बांस का इस्तेमाल करने के फायदे (Bamboo benefits for all skin problems)

डॉ. नीतू कहती हैं, ‘यदि आप स्किन को बेहतर बनाने के लिए कोई नेचुरल उपाय ढूंढ रही हैं, तो बांस के तने के पाउडर से बेहतर कुछ भी नहीं है।’

1 स्किन हाइड्रेशन का बड़ा स्रोत

बांस से तैयार पाउडर स्किन के लिए हाइड्रेशन का एक बड़ा स्रोत है। यह नमी को लॉक करने में मदद करता है। इससे यह स्किन को प्लंप और हाइड्रेटेड महसूस कराता है। यह कोलेजन प्रोडक्शन में भी सहायता करता है। यह स्किन इलास्टिसिटी के लिए जरूरी है।

2 एक्ने और पिंपल्स पर प्रभावी

एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी बैक्टीरियल गुण होने के कारण यह एक्ने और पिंपल्स पर बेहद प्रभावी है। बांस के सत्व भी एंटी पिंपल्स होते हैं। यह स्किन बैरियर को मजबूत बनाता है। हर तरह की गंदगी और बैक्टीरिया को यह दूर रखता है।

Healthy tips glowing skin
एक्ने और पिंपल्स को दूर कर बैंबू पाउडर स्किन को ग्लोइंग बनाता है। चित्र: शटरस्टॉक

बांस की एक खूबी यह भी है कि यह सेंसिटिव स्किन को भी नुकसान नहीं पहुंचाता है।

3 यूवी किरणों से स्किन की सुरक्षा

बैंबू पाउडर स्किन को यूवी किरणों से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद कर सकता है।

4 एक्सफोलिएटर का काम करता है

यदि स्किन पर डेड सेल्स जमा हो गए हैं, तो यह एक बढ़िया एक्सफोलिएटिंग फेशियल स्क्रब के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें मौजूद क्लोरोफिल डेड सेल्स को हटाकर स्किन बैरियर को हाइड्रेट और मजबूत करता है। इससे यह यूवी किरणों के प्रभावों का मुकाबला करता हुए एंटी एजेंट का भी काम करता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

कैसे करें त्वचा के लिए बांस के पाउडर का प्रयोग

बांस के कोमल तने को पीसकर पाउडर बना लें।

सप्ताह में 2-3 बार इस पाउडर को पानी या नींबू के रस के साथ हल्के हाथों से चेहरे पर लगाएं।

bamboo ke fayde
बैंबू पाउडर को नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाया जा सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

आधे घंटे बाद इसे साफ कर लें। इससे स्किन की समस्या दूर हो जाएगी।

दही में बांस पाउडर को मिलाकर

2 चम्मच दही में 1 चम्मच बांस पाउडर को मिलाकर लगाया जा सकता है।

आयुर्वेदिक शाॅप में भी बैंबू पाउडर मिलते हैं। आप वहां से भी लेकर इस्तेमाल कर सकती हैं। 

यह भी पढ़ें:-पान सिर्फ चबाइए नहीं, बालों पर पर भी लगाइए, हम बता रहे हैं 3 तरीके

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख