ड्राई हेयर को सॉफ्ट और शाइनी बनाने के लिए ट्राई करें ये 2 नेचुरल हेयर मास्क

एनवायरमेंटल फैक्टर्स जैसे कि वायु प्रदूषण, सूरज की हानिकारक किरणें, धूल-मिट्टी और गंदगी के साथ ही गलत लाइफस्टाइल भी बालों की सेहत खराब कर सकता है। यहां ऐसे दो हेयर मास्क हैं, जो आपके बालों में मजबूती ला सकते हैं।

Cinnamon hair mask dry hair
यहां ऐसे दो हेयर मास्क हैं, जो आपके बालों में मजबूती ला सकते हैं। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 22 September 2022, 20:36 pm IST
  • 138

महिलाएं अक्सर अपने बालों की सेहत को लेकर चिंतित रहती हैं। बालों का झड़ना, डैंड्रफ, खुजली, स्कैल्प इनफेक्शन जैसी समस्याएं आम होती जा रही हैं। इसलिए जरूरी है कि आप अपने बालों के साथ स्कैल्प काा भी ख्याल रखें। असल में बाल झड़ने की समस्या हेयर फॉलिकल से जुड़ी होती है। यदि स्कैल्प हेल्दी है, तो बाल कम टूटते हैं। बालों की खूबसूरती बनाए रखने के लिए आपको अपने बालों को ड्राई और रफ़ होने से भी बचाना होता है, अन्यथा बाल बीच से टूटना शुरू हो जाते हैं। इसके लिए हमारे पास हैं दो ऐसे हेयर मास्क जो आपके बालों को जड़ों से मजबूत बनाएंगे। आइए जानते हैं उनके फायदे और इस्तेमाल का तरीका।

पोषक तत्वों से भरपूर ये 2 हेयर मास्क आपके बालों के साथ ही स्कैल्प हेल्थ को भी बनाए रखने में मदद करेंगे। तो चलिए जानते हैं, आखिर किस तरह हेयर मास्क हमारे बालों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

1. कोकोनट ऑयल और दालचीनी का हेयर मास्क

दालचीनी सेहत के लिए जितनी फायदेमंद है, उतनी ही आपके बालों एवं स्कैल्प के लिए भी हो सकती है। यदि आप बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो दालचीनी और कोकोनट ऑयल से बना यह हेयर मास्क आपकी इस समस्या का एक प्रभावी सॉल्यूशन हो सकता है।

DALCHINI hair mask
दालचीनी सेहत ही नहीं बालों की सेहत के लिए भी है फायदेमंद। चित्र- शटरस्टॉक।

ज्यादातर लोगों को दालचीनी और बालों के संबंध के बारे में जानकारी नहीं होती। परंतु दालचीनी हेयर ग्रोथ के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद मानी जाती है।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार दालचीनी में मौजूद एंटीमाइक्रोबॉयल हेयर फॉल की समस्या को जन्म देने वाले डैंड्रफ और फंगल इंफेक्शन से स्कैल्प को प्रिवेंट करते हैं। इसे स्कैल्प पर अप्लाई करने से ब्लड सर्कुलेशन इंप्रूव होता है। जो हेयर फॉलिकल्स की हेल्थ को बनाए रखता है और नए बालों को उगने में मदद करता है।

जबकि कोकोनट ऑयल के बारे में रिसर्चगेट द्वारा प्रकाशित एक स्टडी में कहा गया है कि कोकोनट ऑयल बालों में प्रोटीन की मात्रा को बनाए रखता है। इसके साथ ही यह बालों से ड्राइनेस को खत्म करके इसे सॉफ्ट और शाइनी बनाता है। इसमें मौजूद सभी पोषक तत्व बालों के लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं। इसलिए बालों के लिए प्राकृतिक रूप से प्रयोग किए जाने वाले सभी नुस्खों में से इसे सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है।

nariyal ka tel ke fayde
नारियल तेल के साथ बालों को बनाये मजबूत और मुलायम। चित्र: शटरस्टॉक

इन स्टेप्स के साथ तैयार करें दालचीनी और नारियल तेल का हेयर मास्क

सबसे पहले दालचीनी को पीसकर इसका पाउडर बना लें।

अब दूसरी और अपने बालों की लंबाई और डेंसिटी को देखते हुए कोकोनट ऑयल लें और इसे हल्का गर्म कर लें।

गर्म किए गए कोकोनट ऑयल की मात्रा अनुसार दालचीनी पाउडर डालें और इसे अच्छी तरह मिला लें।

यदि आपके पास दालचीनी ऑयल उपलब्ध है, तो इसकी 2-4 बूंदे मिला सकती हैं।

अब तैयार किए गए पेस्ट को सबसे पहले अपने स्कैल्प पर अच्छी तरह लगा लें और फिर अपने बालों पर रुट से लेकर टिप तक लगाएं।

अपनी स्कैल्प को उंगलियों की मदद से सर्कुलर मोशन में हल्के हाथों से मसाज दें।

फिर इसे 25 से 30 मिनट तक लगा हुआ छोड़ दें। बाद में सामान्य रूप से नियमित दिनों की तरह अपने बालों में शैंपू कर सकती हैं।

उचित परिणाम के लिए सप्ताह में कम से कम 2 बार इस मास्क को जरूर अप्लाई करें। यह आपके बालों को पर्याप्त मजबूती प्रदान करेगा। साथ ही डैमेज वालों को रिपेयर करेगा और इन्हें स्मूथ और सिल्की भी बनाएगा।

oats ke fayde
कई पोषक तत्वों का भंडार है ओट्स। चित्र: शटरस्‍टाॅॅक

2. ओट्स, बादाम तेल और मिल्क हेयर मास्क

ओट्स, आमंड ऑयल एंड मिल्क के गुणों से बना यह हेयर मास्क आपके बालों और स्कैल्प के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। ओट्स में मौजूद फाइबर, जिंक, आयरन, ओमेगा 6 फैटी एसिड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड जैसे पोषक तत्व वालों की सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। यह हेयर फॉलिकल्स की सेहत को बनाए रखते हैं, और हेयर ग्रोथ को प्रमोट करते हैं।

वहीं दूध बालों के लिए प्राकृतिक रूप से मॉइश्चराइजर का काम करता है। स्पर्श क्लिनिक मेरठ के डॉक्टर अनुराग आर्य के अनुसार दूध में मौजूद पोषक तत्व रूखे एवं बेजान बालों में दोबारा से जान डाल सकते हैं। इसके साथ ही यह वालों को हाइड्रेट करता है और मजबूती प्रदान करता हैं।

कई रिसर्च यह मानते हैं कि बादाम का तेल बालों को मजबूती देने के साथ स्प्लिट एंड की समस्या से निजात पाने में भी मदद करता है। वहीं इसमें मौजूद विटामिन ई जो कि एक नेचुरल एंटी ऑक्सीडेंट है, यह बालों के आसपास के एनवायरमेंटल स्ट्रेस को कम करती है और आपके हेयर को यंग और हेल्दी बनाती है।

इसके साथ ही यह स्कैल्प के लिए भी फायदेमंद होता है। यस स्कैल्प को ड्राई नही होने देता, ताकि खुजली और इन्फेक्शन जैसी समस्याएं न हों। वहीं यह समस्या बाल झड़ने का एक प्रमुख कारण हो सकती है।

badam tel
बादाम तेलबालों के लिए कर सकता है कमल। चित्र: शटरस्टॉक

इस तरह तैयार करें ओट्स, आमंड ऑयल एंड मिल्क हेयर मास्क

सबसे पहले अपने बालों की लंबाई एवं डेंसिटी को देखते हुए एक बाउल में ओट्स निकाल लें।

ओट्स में 2 से 3 चम्मच बादाम का तेल और ओट्स की मात्रा अनुसार दूध डालें, और इसे अच्छी तरह मिला लें।

अब तैयार किए गए इस मास्क को स्कैल्प से लेकर अपने बालों पर अच्छी तरह लगा लें।

इसे 30 से 40 मिनट तक इसी तरह लगाए रखें और जब यह सूख जाए तो सामान्य रूप से शैम्पू कर लें।

यदि आपके बाल रूखे और बेजान हैं, साथ ही हेयर फॉल की समस्या भी आपको परेशान कर रही है, तो ऐसे में इस मास्क को सप्ताह में कम से कम 2 बार जरूर अप्लाई करें। एक प्रभावी परिणाम नजर आएगा।

यह भी पढ़ें : ज़्यादा नमक बन सकता है जानलेवा, एक्सपर्ट से जानिए खाने में सोडियम कम करने के 5 हेल्दी विकल्प

  • 138
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी- नई दिल्ली में जर्नलिज़्म की छात्रा अंजलि फूड, ब्लॉगिंग, ट्रैवल और आध्यात्मिक किताबों में रुचि रखती हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
nextstory