वैलनेस
स्टोर

ब्लैकहेड्स से छुटकारा दिलाने में मदद करेंगे डर्मेटोलॉजिस्ट के सुझाए ये 8 घरेलू उपचार, जानिए इस्‍तेमाल का तरीका

Published on:1 February 2021, 14:00pm IST
चेहरे पर ब्लैकहेड्स से ज्‍यादा तकलीफदेह कुछ भी नहीं है। उनसे छुटकारा पाना है तो आपको इन चीजों के बारे में पता होना चाहिए।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 78 Likes
ब्‍लैकहेड्स चेहरे पर सबसे ज्‍यादा होने वाली समस्‍याओं में से एक है। चित्र: शटरस्‍टॉक

ब्लैकहेड्स से छुटकारा पाना कोई रॉकेट साइंस नहीं है, लेकिन इस तथ्य को भी झुठलाया नहीं जा सकता कि ये धब्बे बेहद कष्टप्रद होते हैं। वैसे, क्या आप जानती हैं कि ब्लैकहेड्स एक तरह के मुंहासे के अलावा और कुछ भी नहीं हैं। यही कारण है कि तैलीय त्वचा वाले अधिकांश लोग इन काली झाइयों (black freckles) का सामना करते हैं।

ब्लैकहेड्स मूल रूप से आपके चेहरे पर छोटे काले डॉट्स होते हैं, जिन्हें ज्यादातर ठोड़ी, माथे और नाक पर देखा जाता है। ब्लैकहेड्स विकसित होने की संभावना तब अधिक होती है जब आपके हार्मोन बदल रहे होते हैं यानी यौवन और गर्भावस्था के आसपास। और हां जब आप जब आपके पीरियड्स होते हैं, तब भी ब्लैकहेड्स आपके चेहरे पर दिखाई दे सकते हैं।

कॉस्मेटिक डर्मेटोलॉजिस्ट और एम्ब्रोसिया एस्थेटिक्स की संस्थापक डॉ निकिता सोनावने के अनुसार, एण्ड्रोजन ब्लैकहेड निर्माण के लिए जिम्मेदार मुख्य हार्मोन हैं। ये हार्मोन आपकी वसामय ग्रंथियों द्वारा अधिक तेल के उत्पादन का कारण बनते हैं और सीबम को बहुत चिपचिपा भी बनाते हैं।

आपके बालों के रोमछिद्र त्वचा की मृत कोशिकाओं और चिपचिपे सीबम से भर जाते हैं। जब ये हवा के संपर्क में आते हैं, तो इनका ऑक्सीकरण हो जाता है, और इनका रंग काला दिखाई देता है।

ब्लैकहेड्स कैसे आपकी त्वचा को प्रभावित कर सकते हैं

डॉ निकिता सोनावने चेताती हैं, कि ब्लैकहेड्स स्थायी रूप से आपके छिद्रों को बड़ा कर सकते हैं। बड़े ब्लैकहेड्स के साथ ऐसा होने की अधिक संभावना है, जो आपकी त्वचा में लंबे समय तक बने रहते हैं। रोमछिद्रों के चारों ओर की त्वचा अपनी लोच खो देती है और ब्लैकहैड हटाने के बाद भी रोमछिद्र बड़े हो सकते हैं। यदि आप शुरुआती चरण में ही इस पर ध्‍यान नहीं देती।

एक और समस्या यह है कि ये भरे हुए रोमछिद्र जीवाणुओं के लिए प्रजनन स्थल भी हैं। एक्ने फॉर्मिंग बैक्टीरिया जो फोड़े का कारण बनते हैं, वे आपके छिद्रों को संक्रमित कर सकते हैं।

यहां हैं ब्लैकहेड्स से छुटकारा पाने के 8 तरीके

1. डबल क्लींजिंग (Double cleansing)

यह पहली स्किनकेयर आदत है जिसे आपको ब्लैकहेड्स होने पर अपनाना चाहिए। डबल क्लींजिंग यह सुनिश्चित करेगी कि आपने अपनी त्वचा से सभी पानी में घुलनशील और तेल में घुलनशील अशुद्धियों को निकाल दिया है।

रात में भी आपकी स्किन को देखभाल की जरूरत होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
रात में भी आपकी स्किन को देखभाल की जरूरत होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

यहां तैलीय और एक्ने प्रोन स्किन को साफ करने का एक सरल तरीका है। सबसे पहले अपनी त्वचा को माइक्रेलर पानी से साफ करें। एक कॉटन पैड पर थोड़ा माइक्रेलर पानी लें और इसे सर्कुलर मोशन में अपने चेहरे पर स्वाइप करें। फिर जेल बेस्ड फोमिंग क्लीन्ज़र से अपना चेहरा धो लें। अपने चेहरे को ताजे धुले हुए तौलिये से थपथपाकर सुखाएं।

2. भाप लेना (Steaming)

अपने चेहरे को भाप देना ब्लैकहेड्स के लिए सबसे लोकप्रिय घरेलू उपचारों में से एक है। स्टीम त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करती है और चिपचिपे सीबम को पिघलाती है।

अपनी त्वचा की डबल क्लींजिंग के साथ इसकी शुरुआत करें। इसके बाद धीरे से10 मिनट के लिए अपनी त्वचा को भाप दें। एक बार जब आप इसे कर लें, तो इसके बाद अपनी त्वचा पर कुछ सेकंड के लिए बर्फ रगड़ें।

3. ब्लैकहैड रिमूवल स्ट्रिप्स (Blackhead removal strips)

नव-निर्मित ब्लैकहेड्स को हटाने में पोर स्ट्रिप्स (Pore strips) बहुत प्रभावी हैं। अगर आप नियमित रूप से इनका इस्तेमाल करते हैं तो आप ब्लैकहेड्स को बनने से भी रोक सकते हैं। गर्म स्नान के तुरंत बाद इन स्ट्रिप्स का इस्तेमाल करना सबसे अधिक प्रभावी है।

डेंटल फ्लाॅॅॅस आपके दांतों के लिए है स्किन के लिए नहीं। चित्र: शटरस्‍टॉक
डेंटल फ्लाॅॅॅस आपके दांतों के लिए है स्किन के लिए नहीं। चित्र: शटरस्‍टॉक

वैकल्पिक रूप से, आप डबल क्लींजिंग, स्टीमिंग और फिर स्ट्रिप का उपयोग भी कर सकती हैं।

4. बेंटोनाइट क्ले (Bentonite clay)

बेंटोनाइट क्ले को भारतीय हीलिंग क्ले के रूप में भी जाना जाता है। यह प्राकृतिक मिट्टी ज्वालामुखी की राख से बनती है और इसमें कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे मिनरल होते हैं। शरीर को डिटॉक्स करने के लिए कई शताब्दियों से बेंटोनाइट का उपयोग किया जा रहा है।

एक कटोरे में एक चम्मच बेंटोनाइट क्ले लें और इसे ऑर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर के साथ मिलाएं। इसका एक पेस्ट बनाएं और पूरे चेहरे पर 15 मिनट के लिए लगाएं और फिर गर्म पानी से धो लें।

डॉ. सोनावने बताती हैं, कि बेंटोनाइट क्ले आपकी त्वचा से अतिरिक्त तेल और गंदगी को अवशोषित करता है। इसके अलावा, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी मौजूद होते हैं।

5. नियासिनमाइड सीरम (Niacinamide serum)

नियासिनमाइड, विटामिन बी 3 का एक रूप है। जब आप अपनी त्वचा पर नियासिनमाइड युक्त सीरम लगाती हैं, तो यह आपकी त्वचा के तैलीयपन को कम करता है। जब छिद्र कम तेल स्रावित कर रहे होते हैं, तो मृत कोशिकाएं कम चिपचिपी होती हैं। इसका मतलब यह है कि आपके रोमछिद्र बहुत अधिक भरे हुए नहीं होते हैं।

ये सीरम आपको ब्‍लैक हेड्स से छुटकारा दिला सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ये सीरम आपको ब्‍लैक हेड्स से छुटकारा दिला सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

नियासिनमाइड सीरम सभी प्रकार की त्वचा में ब्लैकहेड्स को रोकने के लिए आदर्श है। आप इसे दिन के समय के अपने स्किन रूटीन में इस्तेमाल कर सकती हैं या रात में इस इस्तेमाल कर सकते हैं।

6. एएचए-बीएचए सीरम (AHA-BHA serum)

ग्लाइकोलिक, लैक्टिक और सैलिसिलिक एसिड के साथ एक एक्सफ़ोलीएटिंग सीरम समय के साथ ब्लैकहेड्स को दूर कर सकता है। ये तत्व त्वचा की मृत कोशिकाओं को भंग करते हैं और तैलीयता को भी कम करते हैं।

सीरम जिसमें ऐसे सक्रिय तत्व होते हैं, आपकी त्वचा में जलन और सूरज के प्रति संवेदनशीलता का कारण बन सकते हैं। इसलिए, सुनिश्चित करें कि आप दैनिक आधार पर मॉइस्चराइज़र और सनस्क्रीन का उपयोग करें।

7. तेल रहित मॉइस्चराइज़र (Oil-free moisturizer)

अगर आपकी ऑयली स्किन है तो भी आपको ऑइल-फ्री मॉइस्चराइज़र का इस्तेमाल करके इसे हाइड्रेट रखना होगा। क्या आप जानती हैं कि सूखी और डिहाइड्रेट त्वचा अतिरिक्त तेल का उत्पादन करती है जो बदले में रोमछिद्रों के बंद होने का कारण बनती है।

सभी प्रकार की त्वचा के लिए मॉइस्चराइज़र का उपयोग करना आवश्यक है। लेकिन एक ऐसे मॉइश्चराइजर उपयोग करना जो प्राकृतिक और मिनरल ऑयल से मुक्त है, कंजस्टेड त्वचा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

8. सिलिकन मुक्त सनस्क्रीन (Silicone-free sunscreen)

सभी त्वचा विशेषज्ञ इस बात पर जोर देंगे कि आप हर दिन त्वचा पर सनस्क्रीन लगाएं। खासकर यदि आप अपनी त्वचा को शुद्ध करने के लिए एएचए, बीएचए या रेटिनॉल जैसी सामग्री का उपयोग कर रही हैं। ऐसे में आप एक अच्छा ड्राई टच सनस्क्रीन ले सकती हैं। लेकिन अधिकांश ‘ड्राई टच’ सनस्क्रीन सिलिकन से भरपूर होते हैं।

सन्‍सक्रीन लोशन को कभी भी इग्‍नोर न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
सन्‍सक्रीन लोशन को कभी भी इग्‍नोर न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

डॉ. सोनावने निष्कर्ष देती हैं कि सिलिकन्स आपकी त्वचा के ऊपर एक अदृश्य परत बनाता है, जिसे धोना मुश्किल होता है। इससे समय के साथ गंभीर ब्लैकहेड्स और मुंहासे हो जाते हैं।

तो इससे पहले कि आप बोनर्स (bonkers) के लिए जाएं, ब्लैकहेड्स से निजात पाने के लिए इन घरेलू उपचारों को आजमाएं।

यह भी पढ़ें – इस DIY सीरम के साथ मोटी और लंबी पलकें पाएं.. मस्कारे की ज़रुरत बिलकुल नही पड़ेगी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।